भारतीय पब्लिक सर्च इंजन

ई-सेवा (Links)

मिलकर रहें भारत और चीन: वांग यी

img
बीजिंग (ईएमएस)। चीन के विदेश मंत्री वांग यी का कहना है कि चीनी ड्रैगन और भारतीय हाथी को आपस में लड़ना नहीं चाहिए, बल्कि उन्हें मिल-जुलकर रहना चाहिए। उनका इशारा भारत और चीन के संबंधों की ओर था। वांग ने अपने वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में दोनों देशों से अपने मानसिक अवरोध त्यागने, मतभेदों को सुलझाने और द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने के लिए दूरियां पाटने की बात कही। यह पूछने पर कि डोकलाम गतिरोध सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर वर्ष-2017 में तनावपूर्ण संबंधों के बाद चीन भारत के साथ अपने रिश्ते को किस रूप में देखता है, इस पर वांग ने कहा, कुछ मुश्किलों के बावजूद चीन-भारत संबंध बेहतर हो रहे हैं। बता दें कि भारत और चीन के बीच डोकलाम, चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा, आतंकवादी मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र की पाबंदी जैसे गहरे मतभेद हैं। ये सभी विवाद अभी सुलझे नहीं हैं। वांग यी ने चीन अपने अधिकार और वैध हितों को बरकरार रखते हुए भारत के साथ संबंधों के संरक्षण पर ध्यान दे रहा है। उन्होंने कहा, चीन और भारत के नेताओं ने हमारे संबंधों के भविष्य के लिए रणनीतिक दूरदृष्टि तैयार की है। यदि चीन और भारत एक जुट हो जाएं तो वह मिलकर एक और एक दो की जगह, एक और एक ग्यारह हो सकते हैं।
राजेन्द्र, ईएमएस, 08 मार्च-2018
 
Admin | Mar 08, 2018 15:35 PM IST
 

Comments