भारतीय पब्लिक सर्च इंजन

ई-सेवा (Links)

बेहतरीन शैक्षणिक संस्थान का सपना पूरा करेगा ज्वालामुखी का वेदधारा गलोबल स्कूल

img
80 कनाल जमीन तैयार हुआ है स्कूल
ज्वालामुखी (ईएमएस)। ज्वालामुखी में वेदधारा गलोबल स्कूल धनोट में  करीब 80 कनाल जमीन पर बन कर तैयार हुआ है। इस स्कूल में  अतंरराष्टरीय मानकों के तहत तमाम सुविधायें जुटाने में  करीब चालीस करोड़ का निवेश प्रबंधकों ने किया है।  
स्कूल के प्रशासनिक निदेशक रोबिन वाल्टन  की देखरेख में खुले इस स्कूल का संचालन जाने माने शिक्षाविद् बी डी शर्मा कर रहे हैं।   वेदधारा सोसाईटी  का शिक्षा के क्षेत्र में 130 सालों का अनुभव है। देश व विदेश में कई जगह इनके शैक्षिणिक संस्थान हैं।  
यहां पत्रकार वार्ता में स्कूल के प्रबंधक राजन शर्मा ने बताया कि ज्ञान के बिना संसार में सबकुछ अधूरा है।  लिहाजा हम एक बेहतरीन शैक्षणिक संस्थान का सपना पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं।  जो अंतरराष्टरीय मानकों पर खरा उतरे। उन्होंने कहा कि वेदधारा आने वाले दिनों में  ज्ञान का मंदिर बनकर उभरेगा।  उन्होंने कहा कि धन कमाना हमारा मकसद नहीं। हम समाज में भारतीय उच्च  मूल्यों व आदशो्रं पर आधारित बेहतरीन शैक्षणिक महौल देने के लिये प्रयासरत हैं।  ताकि हमारे संस्थान से छात्र महज किताबी ज्ञान ही लेकर न निकले। बल्कि एक आत्मनिर्भर एवं जिम्मेवार नागरिक के रूप में देश के विकास में अपनी अग्रणी भूमिका निभाये। उन्होंने कहा कि  वेदधारा गलोबल स्कूल में  प्री-नर्सरी नर्सरी से लेकर जमा दो  तक की शिक्षा का प्रावधान रखा गया है ।  सीबीएसई  सिलेबस के तहत यह इंगलिश मिडियम स्कूल हैा। पढ़ाई के साथ साथ अन्य गतिविधियों पर जोर दिया जा रहा है।  
उन्होंने बताया कि इस स्कूल  में शिक्षा के साथ-साथ  शारीरिक शिक्षा, योग, नैतिक और धार्मिक शिक्षा, संगीत, खेलकूद,  आधुनिकतम शिक्षा व्यवस्था, प्रोजेक्टर द्वारा आधुनिकतम शिक्षण व्यवस्था, अंग्रेजी में वार्तालाप शिक्षण की पृथक व्यवस्था,  प्रत्येक कक्षा के लिए कंप्यूटर शिक्षण कि उचित व्यवस्था, कक्षा-कक्ष हवादार एवं फर्नीचर सुबिधाजनक,  एवं पेयजल हेतु वाटर कूलर तथा प्यूरीफाइड वाटर कि व्यवस्था पूर्ण रूप से है । 
उन्होंने कहा कि  इस स्कूल का उद्देश्य संस्कृति मूल्यों की शिक्षा, पर्यावरण के प्रति जागरूकता और मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों से प्रतिभावान बच्चों को शारीरिक शिक्षा सहित उच्च गुणवत्ता युक्त आधुनिक शिक्षा प्रदान करना होगा ! जो कि छात्रों को विश्वस्तरीय शिक्षा के अनुरूप तैयार करेंगे ।  इसके साथ ही स्कूल परिसर में  भव्य वूद्धाश्रम खोला जा रहा है। जिसमें वृद्धों के लिये 24 कमरे बनाये जायेंगे।  स्कूल के निदेशक शैलेन्दर मिश्रा व  पीआरओ दिनेश कंवर भी इस अवसर पर मौजूद रहे। 
,09 फरवरी (मोनिका शर्मा) 
 
Admin | Feb 09, 2018 17:16 PM IST
 

Comments