क्षेत्रीय


सुविधाओं को तरस रहीं दर्जनों कालोनियां

नहीं हुआ सडक़ और नाली निर्माण, टूटी पड़ी नाली और खुदी पड़ी सडक़ों से रहवासी परेशान अशोकनगर (ईएमएस)। शहर में अनेक स्थानों पर कॉलोनियां तो बसा दी गई है लेकिन उनमें रहने वालों लोगों के लिए आवश्यक सुविधाएं मुहैया नही कराई गई है। जिसमें कालोनी में रहने वाले लोगो को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शहर की आधा दर्जन कालोनियों में जरूरी सुविधाएं नहीं होने से लोगों को परेशानियां उठानी पड़ रही हैं। गणेश कालोनी, भोरे कालोनी, त्रिलोकपुरी कालोनी, ऊर्जा कालोनी, शंकर कालोनी, नहर कालोनी सहित ऐसी अनेकों कालोनियां हैं, जिनमें रहवासी सुविधाओं को तरस रहे हैं। ऐसा भी नहीं है कि यह कालोनियां हालही में विकसित हुई हों। इसके बावजूद भी सुविधाओं का विस्तार नहीं हो पा रहा। ऐसे में लोगों को तमाम तरह की दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। इन कालोनियों के कुछ मार्गों पर ही सडक़ों का निर्माण कराया गया है। जहां रोड़ बनी है वहां पर भी नालियां नहीं बनाई गई हैं। घरों से निकलने वाला गंदा पानी नालियों का सही से बहाव न होने के कारण एक जगह भरकर रह जाता है। जिससे नालियों में मच्छर पनपते हैं। कई जगह नालियां टूटी होने के कारण नालियों का पानी रोड़ पर भी भरा रहता है और कई जगह पाइप लाइन बिछाने के लिए खोदी गई सडक़ें आज भी खुदी ही पड़ी हैं। लेकिन सडक़ों की मरम्मत नहीं कराई गई। जिससे सडक़ों पर जमा मिट्टी अब धूल बनकर उड़ रही है जो लोगों के लिये मुसीबत बन रही है। -खाली प्लाट बने मुशीबत: शहर के निचले हिस्सों में बनी कालोनियों में जल निकासी का प्रबंध नहीं होने के कारण खाली पड़े प्लाटों में ही पानी का भराव हो रहा है। इस वजह से इन इलाकों में बीमारियों का खतरा बना हुआ है। दो दशकों में नगर में कई कालोनियों का विकास हो गया है। इन...