क्षेत्रीय

जबलपुर लाइव

Posted by khalid on



1
जबलपुर पहुंते ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था की परिस्थिति अच्छी नही है,केंद्र सरकार को ध्यान देना चाहिए,जनता का अर्थव्यवस्था से ध्यान भटकाने के लिए केंद्र सरकार संवैधानिक मामले लेकर आ रही है, रोजगार से लगे हुए लोग आज बेरोजगार हो रहे है और केंद्र सरकार अनभिज्ञ बनी रहना चाहती है उन्होने कहा कि मनमोहन सरकार ने विश्वमंदी के दौर में भी भारत को बचाने का काम किया था
2
बिजली में हो रहे घाटे की भरपाई के लिए दाम बढ़ाने की चर्चाओं के बीच प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह का बड़ा बयान सामने आया है। मंत्री का कहना है कि शिवराज सरकार में हुआ बिजली घाटा एक दिन में पूरा नही कर सकते है। घाटा पूरा करने के लिए सरकार श्वेत पत्र लेकर आएगी। वही उन्होंने इस साल बिजली दरे ना बढ़ाने के भी संकेत दिए।आज मीडिया से चर्चा करते हुए मंत्री ने कहा कि सरकार की कोशिश यही है कि इस साल बिजली की दर नहीं बढ़ायी जाएं।शिवराज सरकार में हुए घाटे को पूरा करने सरकार श्वेत पत्र लाएगी।

3 जिले के प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह ने वित्त मंत्री तरुण भनोट और समाजित न्याय. मंत्री लखन घनघोरिया के साथ कलेक्ट्रेट में जिला योजना समिती की बैठक ली । इस दौरान सभी अधिकारी उपस्थित रहे । वहीं इसके बाद ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह स्वच्छता का संदेश देती स्वच्छता गाड़ी को कलेक्ट्रेट में रही झंडी दिखाकर रवाना किया ।

4
जबलपुर जिले के प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह ने आज जिला समन्वय समिति की बैठक ली जिसमें कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता, जिलाध्यक्ष और विधायक पार्षद सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

5
एनआरसी और सीएए के समर्थन में आज भारतीय जनता युवा मोर्चा ने अनूठा प्रदर्शन किया।मकर संक्रांति के पर्व पर आज भाजयुमो ने पूरे प्रदेश में पतंग प्रतियोगिता आयोजित की और स्लोगन दिया कि आई सपोर्ट सीएए।इस मौके पर भाजयुमो के प्रदेशाध्यक्ष अभिलाष पांडे ने भी जबलपुर में पतंग प्रतियोगिता में अपने कार्यकर्ताओं के साथ शामिल हुए और पतंग उड़ाकर सीएए का समर्थन लोगो ने मांगा है।शहर के बड्डा मैदान में आयोजित हुए इस पतंग प्रतियोगिता में शामिल हुए अभिलाष पांडे ने कहा कि वर्तमान समय में कुछ लोग भ्रामक प्रचार फैला रहे हैं।जिसको लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा की टीम ने पूरे मध्यप्रदेश के अंदर पतंग प्रतियोगिता आई सपोर्ट सीएए के नाम से आयोजित कर इसे बढ़ाने का काम किया है।