खेल

इंग्लैंड की विश्वकप फाइनल में धमाकेदार एंट्री, ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से पराजित किया

11/07/2019

लंदन (ईएमएस)। बर्मिंघम के एजबैस्टन में क्रिकेट विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से पराजित करके इंग्लैंड ने फाइनल में प्रवेश कर लिया है, जहां उसका मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा। इंग्लैंड की जीत के साथ ही यह तय हो गया है कि अब क्रिकेट की दुनिया को एक नया विश्व कप विजेता मिलने वाला है। अभी तक वेस्टइंडीज - ऑस्ट्रेलिया - भारत - पाकिस्तान - श्री लंका सहित पांच टीमें विश्व चैंपियन बनने का गौरव प्राप्त कर पाई हैं। विश्व कप फाइनल में जीतने वाला देश विश्व कप का छठवां चैंपियन बन जाएगा।
आज इंग्लैंड ने चौतरफा शानदार खेल दिखाया। उसने पहले तो ऑस्ट्रेलिया को 49 ओवर में 223 रन पर ऑल आउट कर दिया बाद में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 32.1 ओवर में ही 2 विकेट पर 226 रन बनाकर शानदार जीत हासिल कर ली।
इंग्लैंड की जीत की स्क्रिप्ट लिखी उसके ओपनिंग बल्लेबाजों जेसन रॉय और जॉनी बेयर्सटो ने। दोनों ने तेज खेलते हुए पहले विकेट के लिए मात्र 17.2 ओवर में 124 रन की साझेदारी कर ऑस्ट्रेलिया के हाथ से मैच छीन लिया। 18 वें ओवर में इस साझेदारी को मिचेल स्टार्क ने जॉनी बेयरस्टो को पगबाधा आउट करके तोड़ा। जॉनी बेयरस्टो ने 43 गेंदों में पांच चौके की सहायता से 34 रन बनाए। दूसरे छोर पर जैसन राय का तूफान जारी था। उन्होंने कंगारुओं को मैदान में चारों तरफ दौड़ाया और बेहतरीन स्ट्रोक्स लगाए। 20वें ओवर की चौथी गेंद पर पैट कमिंस ने जेसन रॉय को एलेक्स केरी के हाथों लपकवा दिया। जेसन रॉय ने 65 गेंदों में नौ चौके और 5 छक्के की सहायता से 85 रन बनाए। जब दूसरा विकेट गिरा उस वक्त इंग्लैंड का स्कोर 147 रन था। मैदान पर आए जो रूट और एवं इयोन मॉर्गन ने आते ही हाथ खोल दिए। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को बहुत मारा और 32.1 ओवर में 226 रन बनाकर मैच समाप्त कर दिया। जो रूट 46 गेंदों में 49 रन बनाकर नाबाद रहे उन्होंने 8 चौके मारे। इयोन मॉर्गन ने 39 गेंदों में 8 चौके की सहायता से नाबाद 45 रन मारे। इंग्लैंड के लिए मिशेल स्टार्क और पैट कमिंस ने एक-एक विकेट लिए। अब 14 जुलाई को फाइनल में इंग्लैंड का मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा।
इससे पहले टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 49 ओवर में 223 रन बनाकर आल आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही। जब स्कोर मात्र 4 रन था उस वक्त जोफ्रा आर्चर ने ऐरन फिंच को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। फिंच बिना खाता खोले लौट गए। दूसरा विकेट भी जल्द ही आ गया जब डेविड वॉर्नर तीसरे ओवर की चौथी गेंद पर मात्र 9 रन बनाकर क्रिस वोक्स के शिकार बने। उनका कैच जॉनी बेयर्सटो ने पकड़ा। उन्होंने दो चौके भी लगाए। विकेट लगातार गिरते रहे, सातवें ओवर में जब ऑस्ट्रेलिया के खाते में मात्र 14 रन आए थे उस वक्त पीटर हैंड्सकॉम्ब को क्रिस वोक्स ने क्लीन बोल्ड कर दिया। उन्होंने 12 गेंदों में मात्र 4 रन बनाए। इसके बाद स्टीव स्मिथ और एलेक्स कैरी ने पारी संभालने की कोशिश की। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 103 रन की साझेदारी करके ऑस्ट्रेलिया की उम्मीद को जीवित रखा, लेकिन 28 वें ओवर में एलेक्स कैरी को आदिल राशिद की गेंद पर सब्सीट्यूट ने कैच कर लिया। उन्होंने 70 गेंदों में चार चौके की सहायता से 46 रन बनाए। मार्कस स्टोइनिस भी बिना कोई रन बनाए आदिल राशिद द्वारा पगबाधा आउट कर दिए गए। विकटों के गिरने का सिलसिला जारी रहा, ग्लेन मैक्सवेल ने 23 गेंदों में दो चौके और एक छक्के की सहायता से तेजी से 22 रन अवश्य बनाए लेकिन उन्हें जोफ्रा आर्चर की गेंद पर इयोन मॉर्गन ने कैच कर लिया। पैट कमिंस को आदिल राशिद ने 6 रन के स्कोर पर चलता किया, उनका कैच जो रूट ने पकड़ा। निचले क्रम के बल्लेबाज मिशेल स्टार्क ने स्टीव स्मिथ के साथ मिलकर 51 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को जॉस बटलर ने एक बेहतरीन थ्रो द्वारा स्टीव स्मिथ को रन आउट करके तोड़ दिया। स्मिथ ने 119 गेंदों में छह चौके की सहायता से 85 रन बनाए। अंतिम ओवरों में ज्यादा रन नहीं बन पाए। मिचेल स्टार्क को वोक्स ने स्मिथ के आउट होने के अगली बाल पर जॉस बटलर के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 36 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की सहायता से 29 रन बनाए। जेसन बेहरनडोर्फ़ को मार्क वुड ने 1 रन के स्कोर पर बोल्ड कर दिया। नाथन लायन 6 गेंदों में 5 रन बनाकर नाबाद रहे। ऑस्ट्रेलिया की टीम 49 ओवर में 223 रन बनाकर आल आउट हो गई।
इंग्लैंड के लिए क्रिस वोक्स ने 8 ओवर में 20 रन देकर तीन विकेट लिए। आदिल राशिद को 3 , जोफ्रा आर्चर को दो और मार्क वुड को एक विकेट मिला।
सुबोध\११\०७\२०१९