क्षेत्रीय

मानसून के पूर्व नगरपालिका की तैयारियों की खुलीं पोल

28/06/2020

जिला प्रशासन के आदेश निर्देश के बाद भी पानी की निकासी नहीं होने से शहर हुआ जलमग्न।
सीहोर (ईएमएस)। इस बार मानसून की द्वितीय तेज बारिश ने पुनः पानी की निकासी के पुख्त इंतजाम नहीं होने के कारण शहर के मध्य पानी भरने से तालाब का रूप धारण कर लिया। इस दौरान शहर में करीब डेढ़ घंटे तक पानी बरसा । शहर में तेज बारिश के चलते हमेशा की तरह मेन रोड तथा कोतवाली परिसर मे तो तालाब का रूप धारण कर लिया। लेकिन आश्चर्य तो तब हुआ जब लोगों ने देखा कि यह बारिश आधे शहर में हो रही थी। बाकी आधे शहर में तेज हवा चल रही थी। करीब 15 मिनट बाद पूरे शहर में बारिश का दौर शुरू हुआ। तेज बारिश से डेढ़ घंटे में पूरा शहर जलमग्न हो गया। इस बारिश से जहां कोतवाली परिसर में पानी भरने लगा तो वहीं गणेश मंदिर रोड पर भी चलना मुश्किल हो गया। कई जगह दुकानों के आसपास भी पानी भरने से लोगों को परेशानी हुई। नालियों के चोक होने के कारण भी गंदा पानी सड़कों पर आया। एक बार फिर व्यवस्थाओं की पोल इस तरह खुली। जबकि 6 जून को जिला मुख्यालय पर कलेक्टर कार्यालय के सभा कक्ष बैठक मे नगरपालिका अधिकारियों को आदेशित किया गया था की आगामी बारिश के पूर्व शहर में पानी निकासी के लिए शीघ्र व्यवस्था की जाये। मानसून विभाग के अनुसार जिले में अब तक 10 इंच से अधिक बारिश याने 25.5 सेमी औसत बारिश दर्ज हो चुकी है। जबकि पिछले साल जिले में मात्र 3.7 सेमी औसत बारिश ही दर्ज हुई थी।
विमल जैन/ 28 जून 220