ट्रेंडिंग

पीएम मोदी ने गुजरात के दो शहरों में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का किया शिलान्यास

18/01/2021

अहमदाबाद (ईएमएस)। रविवार को देश के अलग अलग शहरों को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जोड़ती 8 ट्रेनों की शुरुआत करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गुजरात के दो शहरों को बड़ी सौगात दी है। पीएम मोदी ने सोमवार को सूरत मेट्रो रेल प्रोजेक्ट और अहमदाबाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के फेज-2 का भी ई शिलान्यास किया। इस मौके पर केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह, गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीपसिंह पुरी मौजूद रहे। मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का ई शिलान्यास करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश के 2 बड़े व्यापारिक केन्द्रों अहमदाबाद और सूरत में मेट्रो कनेक्टिविटी और मजबूत करने का काम करेगी। आज 17000 करोड़ से अधिक के इंफ्रास्ट्रक्चर का काम शुरू हो रहा है। ये दिखाता है कि कोरोना काल में भी नए इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण में लगातार जारी है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले 10-12 वर्षों में केवल 225 किलोमीटर मेट्रो लाइन ऑपरेशन हुई थी। जबकि बीते 6 वर्ष में 450 किलोमीटर से अधिक मेट्रो नेटवर्क चालू हो चुका है। पीएम मोदी ने कहा कि आज सूरत आबादी के लिहाज से देश का आठवां शहर है और विश्व का चौथा सबसे तेजी से विकसित होता शहर है। दुनिया के हर 10 हीरों में से 9 सूरत में तराशे जाते हैं। सूरत आज देश का दूसरा सबसे स्वच्छ शहर है। पीएम मोदी ने कहा कि हममें से ज्यादातर ने वह दौर भी देखा होगा जिसमें गुजरात के गांवों तक ट्रेन और टैंकरों से पानी पहुंचाया जाता था। लेकिन अब गुजरात के हर गांव में पानी पहुंच चुका है। राज्य के 80 प्रतिशत घरों में नलों के जरिए पानी उपलब्ध है।
सूरत मेट्रो रेल प्रोजेक्ट पर कुल 12020 करोड़ रुपए खर्च होंगे और इसकी लंबाई 40.35 किलोमीटर होगी। पहले गलियारे की लंबाई 21.61 किलोमीटर और दूसरे की 18.74 किलोमीटर होगी। पहला गलियारा सरथाणा से ड्रीम सिटी तक होगा, जिसमें 14 एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन और 6 भूमिगत स्टेशन होंगे। जबकि दूसरा गलियारा भेसाण से सरोली तक होगा, जिसमें 18 एलिवेटेड स्टेशन होंगे। फिलहाल ड्रीम सिटी डिपोसे कदरशा की नाल तक 9.88 किलोमीटर के गलियारे को प्राथमिकता दी जाएगी, जिसमें 10 एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन होंगे। अहमदाबाद मेट्रो प्रोजेक्ट के दूसरे फेज में दो कोरिडोर होंगे, जिसकी लंबाई 28.25 किलोमीटर की होगी। 22.83 किलोमीटर लंबा पहला कोरिडोर मोटेरा स्टेडियम से गांधीनगर स्थित महात्मा मंदिर तक बनेगा। जबकि दूसरा 5.41 किलोमीटर लंबा कोरिडोर जीएनएलयू से गिफ्ट सिटी तक बनेगा। अहमदाबाद मेट्रो के दूसरे फेज में कुल 5384.17 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
सतीश/18 जनवरी 2021