विशेष

(बैतूल) डाक्टर शीलू पंद्राम भैसदेही विधानसभा में कांग्रेस पार्टी की मज़बूत दावेदार, -पूर्व विधायक धरमूसिंह सिरसाम से है अधिक प्रभावशाली

07/09/2018

बैतूल/आठनेर/भैसदेही (ईएमएस)।चुनावी महाभारत के लिए मैदान तैयार हो गया है । कुछ ही दिनों बाद विधानसभा के चुनाव होना है। ऐसे में दावेदारों के नाम सामने आने लगे हैं ।
भैसदेही विधानसभा में हमेशा कांग्रेस पार्टी कमजोर रही है। कांग्रेस के पूर्व विधायक धरमूसिंह सिरसाम 2003 में चुनाव जीतने में सफल हुए थे वहीं 2008 के चुनाव के बाद से ही कांग्रेस पार्टी भैसदेही विधानसभा क्षेत्र में निष्क्रिय हो गई थी।
यहाँ से कांग्रेस पार्टी को चुनाव जिताऊ उम्मीदवार नहीं मिला था लेकिन 2018 के विधानसभा चुनाव में एक महिला नेत्री की दावेदारी से कांग्रेस पार्टी को सफलता मिल सकती है। जिसकी जनचर्चा विधानसभा क्षेत्रों में होने लगी है । महाराष्ट्र के नागपुर की प्रसिद्ध और जानी-मानी डॉक्टर शीलू पंद्राम को कांग्रेस की मजबूत दावेदार के रूप में देखा जा रहा है। विधानसभा क्षेत्र में महिला कांग्रेस नेत्री की चर्चा हर गांव में चल रही हैं जिससे कांग्रेस को नई संजीवनी मिल सकती है ।
वहीं पूर्व विधायक धरमूसिंह सिरसाम अभी भी जनता से दूर हैं और पार्टी में भी सक्रिय रुप से भूमिका नहीं निभा रहे हैं।
लेकिन डॉक्टर शीलू पंद्राम विधानसभा क्षेत्र में लगातार दौरे कर लोगों से मेल मुलाकात कर रही है । वे आठनेर ब्लॉक और भैंसदेही भीमपुर में कांग्रेस का वर्चस्व बढ़ाने के लिए महिला नेत्री की सक्रियता से पार्टी को नहीं जान देने के उद्देश्य से हर दिन विधानसभा क्षेत्र के गांवों का दौरा कर रही है । 15 वर्षों से काबिज भाजपा को मात देने के लिए डाक्टर शीलू पंद्राम को कांग्रेस पार्टी में जिताऊ उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा है । भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र में अभी तक पुरुष उमीदवार ही चुनाव लड़ते आ रहे हैं लेकिन पहली बार कांग्रेस से महिला नेत्री की दावेदारी से भाजपा के खेमे में भी बेचैनी देखने को मिल रही है ।

नये चेहरे से कांग्रेस में गुटबाजी खत्म होने की उम्मीद
भैसदेही विधानसभा में गुटबाजी का शिकार कांग्रेस अब नये चेहरे को लाकर गुटबाजी खत्म करा सकती है। ऐसे में डाक्टर शीलू पंद्राम कांग्रेस की नैया पार लगाने के लिए पार्टी के नेता और आम जनता से दिनोंदिन रूबरू हो रही है। इसका असर आने वाले विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा। लेकिन वर्तमान में निष्क्रिय नेताओं की जगह सक्रिय रुप से काम करने वाली महिला नेत्री विधानसभा क्षेत्र में लोगों से संपर्क करने में लगी है। वहीं भाजपा के नेता और वर्तमान विधायक महेंद्र सिंह चौहान अभी भी जनता से दूर हैं। ऐसे में इसका फायदा उठाकर कांग्रेस पार्टी द्वारा महिला उम्मीदवार के लिए कैंपेन चला कर सफलता हासिल कर सकती है ।

गोंडवाना पार्टी से भी नजदीकी बना रही कांग्रेस
15 साल से प्रदेश में काबिज भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए कांग्रेस कोई मौका नहीं छोड़ना चाह रही है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के बड़े नेता और विधानसभा चुनाव क्षेत्रों में दावेदारों के रूप में काम करने वाले उम्मीदवार गोंडवाना पार्टी से भी नज़दीकियां बढ़ा रहे हैं । भैसदेही विधानसभा क्षेत्र में डाक्टर शीलू पंद्राम गोंडवाना पार्टी के नेता और आदिवासी समाज के बीच सेतु बनाने का काम तेजी से कर रही है। हर हाल में कांग्रेस पार्टी इस बार सत्ता में आना चाहती है ऐसे में नए चेहरे पर दांव लगाकर कांग्रेसको सफलता मिलने की उम्मीद है ।
नवल-वर्मा-बैतूल / 07-सितम्बर-2018