व्यापार

इंडियन आयल अगले सात साल में दो लाख करोड़ निवेश करेगी

19/05/2019


- कंपनी अपनी मौजूदा रिफाइनरियों का करेगी विस्तार
नई दिल्ली (ईएमएस)। पेट्रोलियम उत्पादों का कारोबार करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी कंपनी इंडियन आयल कॉरपोरेशन (आईओसी) भविष्य की जरूरतों को देखते हुए अगले पांय से सात साल के दौरान ईंधन और ऊर्जा के विविध क्षेत्रों में दो लाख करोड़ रुपए निवेश करने पर ‎विचार कर रही है। कंपनी अपनी मौजूदा रिफाइनरियों का विस्तार करने के साथ ही स्वच्छ ईंधन और उत्पादन बढ़ाने में नई प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। रिफाइनरी-पेट्रोरसायन एकीकृत परिसरों, जैव- ईंधन, कोल गैसिफिकेशन, हाइड्रोजन ईंधन सेल और बैटरी प्रौद्योगिकी जैसे नये क्षेत्रों में अपनी अनुसंधान एवं विकास विशेषज्ञता के बल पर आगे बढ़ रही है। आईओसीके चेयरमैन संजीव सिंह ने हाल ही में वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में कंपनी की भविष्य की योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी रिफाइनरी, पाइपलाइन, पेट्रोरसायन और ऊर्जा के विभिन्न क्षेत्रों में 25,000 करोड़ रुपए का पूंजी निवेश करेगी। कंपनी ने 2018- 19 में भी तय लक्ष्य के मुकाबले 116 प्रतिशत निवेश करते हुए 26,548 करोड़ रुपए का पूंजी निवेश किया है।
सतीश मोरे/19मई