राज्य समाचार

कलेक्टर ने 6 गाँवों का किया भ्रमण, किसानों से किया संवाद

07/08/2020

धान एवं मक्के की फसलों का लिया जायजा
जबलपुर,(ईएमएस)। कलेक्टर भरत यादव ने ग्रामीण क्षेत्र के अपने भ्रमण के दौरान जहाँ खेतों में पहुँचकर धान एवं मक्का की फसलों का जायजा लिया वहीं किसानों और ग्रामीणों से रु-ब-रु होकर खाद-बीज की उपलब्धता तथा राशन दुकानों से खाद्यान्न वितरण की स्थिति पर चर्चा की। श्री यादव ने इस दौरान खाद्य सुरक्षा अधिनियम के सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं के सर्वे में पाये गये अपात्रों के नाम काटने की चल रही प्रक्रिया का जायजा भी लियाऔर इस कार्य को हर हाल में दस अगस्त तक पूरा कर लेने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।
कलेक्टर ने ग्रामीण क्षेत्र के अपने भ्रमण की शुरुआत जबलपुर तहसील के ग्राम पिंडरई से की। उन्होंने यहाँ कृषक सत्येंद्र पटेल द्वारा एसआरआई पद्धति से करीब दस एकड़ में बोई गई धान की फसल का अवलोकन किया। श्री यादव ने कृषि की नई तकनीकों का इस्तेमाल करने के लिये इस युवा किसान की तारीफ की और कम लागत में धान का ज्यादा उत्पादन लेने के लिये छोटे पेड़ी ट्रांसप्लांटर का इस्तेमाल करने का सुझाव दिया । सत्येंद्र ने कलेक्टर को बताया कि धान की बुआई के लिये खेत को तैयार करने में लेजर लैंड लेवलर का इस्तेमाल किया था। इससे पूरे खेत में एक जैसी मात्रा में पानी पहुंचता है । किसान ने बताया कि डेयरी से निकलने वाले अपशिष्ट का इस्तेमाल वो धान की फसल को पानी देने में कर रहा है। इससे उसे रासायनिक खाद की जरूरत नहीं रह गई है । श्री यादव ने इस मौके पर खेत से लगी इस किसान की डेयरी को भी देखा। पिंडरई के बाद कलेक्टर ने ग्राम सोहड़ पहुँचकर किसानों और ग्रामीणों से चर्चा की तथा खाद-बीज की उपलब्धता के साथ ही खाद्यान्न के वितरण की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। कलेक्टर ने जबलपुर तहसील के ही ग्राम हिनौतिया भोई में उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण किया और सर्वे में अपात्र पाये गये उपभोक्ताओं के नाम काटे जाने की प्रक्रिया तय समय सीमा के भीतर पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने केंद्र एवं राज्य शासन की योजनाओं के तहत उपभोक्ताओं को दस अगस्त तक खाद्यान्न का वितरण करने की हिदायत भी मौके पर मौजूद अधिकारियों को दी। कलेक्टर श्री यादव ने जबलपुर तहसील के ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के बाद कुंडम के ग्राम खुक्खम पहुँचकर यहाँ शाला परिसर में पिछले तीन वर्षों किये जा रहे पौधारोपण के कार्य का अवलोकन किया। उन्होंने रोपे गये पौधों की समर्पित भाव से देखभाल और सुरक्षा करने के लिये पौधरक्षक तितरु परस्ते की सराहना की।
इमलई में किया क्वारन्टीन सेंटर का निरीक्षण...
कलेक्टनर श्री यादव ने प्राथमिक स्वास्थ केंद्र इमलई का भी निरीक्षण किया तथा यहाँ मौजूद स्वास्थ्य विभाग एवं लोक स्वास्य्कें यांत्रिकी विभाग के अमले को पेयजल स्त्रोतों की सफाई और क्लोरीनेशन के निर्देश दिये। उन्होंने पेयजल स्त्रोतों की सफाई में उन क्षेत्रों में खास ध्यान देने का निर्देश दिया जहाँ पूर्व के वर्षों में संक्रामक रोग फैल चुका है। श्री यादव ने समीप स्थित छात्रावास भवन में बनाये गये क्वारन्टीन सेंटर का भी निरीक्षण किया और यहॉं क्वारन्टीन किये गये कोरोना संदिग्धों से चर्चा कर भोजन आदि की मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली।
सिंचाई परियोजनाओं का भी लिया जायजा...
कुंडम तहसील के भ्रमण के दौरान कलेक्टर श्री यादव ने बदुआ और छीताखुदरी पहुँचकर यहाँ जल संसाधन विभाग की निर्माणाधीन सिंचाई परियोजना की प्रगति का स्थल पर जाकर मुआयना किया। श्री यादव ने इन सिचाई परियोजनाओं के काम में गति लाने के निर्देश देते हुये अधिकारियों से कहा कि विस्थापितों के पुनर्वास स्थलों पर अधोसंरचना निर्माण एवं मूलभत सुविधाओं के विकास पर भी ज्यादा ध्यान दिया जाये । उन्होंने कहा कि सिंचाई परियोजनाओं के लिये अधिग्रहित भूमि का मुआवजा पाने से यदि कोई वंचित रह गया हो तो उसे भी शीघ्र मुआवजा का भुगतान किया जाये । श्री यादव ने अधिग्रहित भूमि और वितरित किये गये मुआवजा की सूची सबंधित ग्राम पंचायत में चस्पा करने के निर्देश भी दिये । कलेक्टर ने बदुआ में सिंचाई परियोजना से विस्थापित हुये लोगों से भी चर्चा की । उन्होंने बदुआ और छीताखुदरी के बाद दरगड़ सिंचाई परियोजना का अवलोकन भी किया। उन्होंने तीनो परियोजना की सिचाई क्षमता और कुंडम सहित इनके आसपास के गाँवों में पेयजल आपूर्ति के लिये बनाई गई योजनाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। श्री यादव के ग्रामीण क्षेत्र के आज के भ्रमण में दौरान कुंडम एसडीएम एवं अपर कलेक्टर विमलेश सिंह, जबलपुर एसडीएम नम: शिवाय अरजरिया, कार्यपालन यंत्री जलसंसाधन आर एस शर्मा, उपसंचालक कृषि डॉ एस के निगम, कार्यपालन यंत्री आर ई एस श्री कोरी भी मौजूद थे ।
सुनील साहू/07अगस्त