क्षेत्रीय

रंगपंचमी पर सुबह से चढ़ी रंगों की खुमारी, शाम तक पहचान नहीं पाए एक दूसरे के चेहरे

25/03/2019

रंगारंग गेर में मदमस्त होकर झूमे युवा, सड़कों, गली, मोहल्लों में दिनभर उड़ा रंग- गुलाल
खरगोन (ईएमएस)। फागोत्सव की रंगपंचमी पर सोमवार को रंगो की खुमारी के बीच छाई मस्ती देरशाम तक चलती रही क्या महिला, क्या बुढे, क्या जवान और क्या बच्चे सभी को रंगो की मस्ती चढ़ी। एक दूसरे पर रंग-गुलाल लगाए बिना नही रह सके। लाल, हरे, नीले रंगो में रंगे चेहरो को पहचानना दोपहर तक मुश्किल हो गया। शहर के अनेक स्थानो एवं कॉलोनियों में रंगपंचमी पर रंगोत्सव मनाने के साथ ही ठंडाई के साथ, पार्टी के दौर चलते रहे। कुछ ऐसे भी थे, जिन्होनें रंगो से परहेज करते हुए घर पर बैठकर लुत्फ उठाया।
रंगपंचमी पर सोमवार को शहर की सड़कों पर एक अलग ही नजारा देखने को मिला। एक ओर जहां पूरा शहर रंगों में सराबोर नजर आया, तो वहीं नपा ने परंपरागत गेर निकालकर रंगपंचमी की मस्ती दोगुनी कर दी। गेर में सैंकड़ों की संख्या में युवा, बच्चे नाचते.गाते और रंग.गुलाल उड़ाते शहर की सडक़ों से निकले। जैसे.जैसे गेर का कारवां आगे बढ़ता गया, वैसे.वैसे इसमें लोग जुड़ते गए और पोस्ट ऑफिस पहुंचते.पहुंचते यह कारवां बढ़ता गया। गेरों में फायर फायटर से जमकर रंग उड़ाया गया और उड़ते रंगों के बीच शहरवासियों ने झूमते हुए खूब मस्ती की। इधर, प्रशासन ने भी हुड़दंगियों से निपटने के लिए कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था की थी। चप्पे.चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा। वहीं, गेरों और फाग यात्राओं पर ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों से भी नजर रखी गई।
रंगपंचमी पर लोगों ने एक-दूसरे को रंग, अबीर और गुलाल लगाकर रंगपंचमी पर्व की शुभकामनाएं दी। महिलाएं और युवतीयां अपने आप में रंगो के इस माहौल से दूर नही रख पाई। दिनभर कॉलोनियां और मोहल्लों में महिलाओं और युवतीयों ने मस्ती के बीच जमकर रंग-गुलाल खेला। युवाओं की टोलियां शहर में जगह-जगह घूमती हुईं तथा एक-दूसरों को रंगों एवं गुलाल से तरबतर करती दिखाईं पड़ी। घर-घर में रंग और गुलाल उड़ाकर रंगपंचमी पर्व का लोगों ने आनंद उठाया। कहीं-कहीं पर फूलों और गुलाल से ही सूखी रंगपंचमी मनाई गई। युवा बैंड-बाजे की धुन पर नाचते-गाते हुये दिखाई दिये।

नपा ने निकाली परंपरागत गैर
नगर पालिका द्वारा रंगारंग गेर निकाली गई, परंपरागत गैर ने रंगों की बरसात कर युवाओं की टोलियो सहित शहर की सड़को को रंगों से सराबोर कर दिया। गेर के साथ चल रहे ढोल, तांशे और मांदल ने युवाओं को मदमस्त कर दिया। पानी की बौछारों और बज रहे ध्वनि विस्तारक की धून पर युवा जमकर झूमे। शहर के हजारों युवाओं और नागरिकों ने जमकर आनंद लिया। गेर टाउन हॉल परिसर से निकलकर बस स्टैंड, श्रीकृष्ण टॉकिज होते हुए पोस्ट ऑफिस पहुंचकर संपन्न हुई। इस दौरान रास्तेभर रंगो और गुलाल से नागरिको को सराबोर कर दिया।
प्रवीण/25/03/2019