राज्य समाचार

नेशनल डेंगू डे पर निकली साइकिल रैली

16/05/2022

- स्वास्थ्य मंत्री ने दिखाई हरी झंडी
-पिछले साल प्रदेश में मिले थे रिकॉर्ड 15 हजार डेंगू मरीज
भोपाल (ईएमएस)। गर्मिंयों के बाद बारिश के मौसम में मच्छरों से होने वाली बीमारियों डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया के मरीज बढऩे लगते हैं। बीते साल प्रदेश में डेंगू के रिकार्डतोड 15 हजार मरीज मिले थे। डेंगू पर काबू पाने के लिए अब आम लोगों को डेंगू के लक्षणों, बचाव और नजदीकी उपचार केन्द्र की जानकारी 104 के हेल्पलाइन नंबर पर मिल सकेगी। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने भोपाल के जेपी अस्पताल परिसर स्थित आईईसी ब्यूरो के ऑफिस से साइकिल रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस रैली में छोट- छोटे बच्चे भी शामिल हुए उन्होंने मच्छरों से बचाव का संदेश दिया।
नेशनल वैक्टर बोर्न डिसीज कंट्रोल प्रोग्राम के स्टेट प्रोग्राम ऑफीसर डॉ. हिमांशु जायसवार ने कहा कि इस साल डेंगू नियंत्रण के लिए जनभागीदारी को बढ़ाया जाएगा। नर्सिंग होम एसोसिएशन के साथ जिलों में हर 15 दिनों में बैठक कर डेंगू की रोकथाम और इलाज को लेकर रणनीति बनाई जाएगी। भारत सरकार की गाइडलाइन के अनुसार 10 हजार से कम प्लेटलेट़्स होने पर ही चढ़ाई जाएं लेकिन राज्य स्तर पर यह निर्देश दिए गए हैं कि प्लेटलेट्स 25 हजार से कम दिखें तो उसके ट्रांसफ्यूजन की व्यवस्था करनी चाहिए। इसके लिए प्रायवेट अस्पतालों के संचालकों के साथ मीटिंग की जाएगी। डेंगू की जांच के लिए लैब की संख्या बढ़ाकर 64 की जाएगी। जिससे समय पर जांच रिपोर्ट मिल सके और उपचार में देरी न हो।
बारिश के पहले करें डेंगू की रोकथाम के प्रयास
स्वास्थ्य मंत्री डॉ.प्रभुराम चौधरी ने कहा कि बारिश का इंतजार करने के बजाए मच्छर रोधी गतिविधियों को बढ़ाएं। डेंगू के संवेदनशील क्षेत्रों में लार्वा सर्वे कर लोगों को जागरूक करें। साइकिल रैली में करीब दो सौ लोग शामिल हुए। बाइसाइकिल एसोसिएशन के लगभग 200 साइक्लिस्ट और मलेरिया विभाग के करीब सौ कर्मचारियो ने भाग लिया। जेपी हॉस्पिटल कैम्पस स्थित आईईसी ब्यूरो से शुरू होकर लगभग 10 किलोमीटर का रन पूरा करने के बाद खत्म हुई।
‎विनोद./ 16 मई 2022