ट्रेंडिंग

ये महामिलावटी लोगों के पास दो ही मुद्दे हैं, मोदी की छवि को खराब करो और मोदी को हटाओ

15/05/2019


पालीगंज (ईएमएस)। लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण से पहले सभी दल अपनी पूरी ताकत प्रचार करने में झोंक रहे है। इसी कड़ी में भाजपा के स्टार प्रचारक और पीएम मोदी ने बुधवार को बिहार के पालीगंज में आयोजित एक चुनावी जनसभा में प्रधानमंत्री मोदी ने राष्‍ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और उनके सहयोगी दलों पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि जितने भी ये महामिलावटी हैं, ये घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं। इनके पास दो ही मुद्दे हैं, मोदी की छवि को खराब करो और मोदी को हटाओ। लेकिन इन महामिलावटी लोगों को अहसास नहीं है कि मोदी आज यहां पर 130 करोड़ भारतीयों के आशीर्वाद से है। मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के रूप में मेरा करीब 2 दशक का काम रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि जनता जनार्दन तो ईश्वर का रूप है। इन पदों को मैंने जनता द्वारा दिया प्रसाद माना है। इस प्रसाद को शीश झुकाकर स्वीकार किया है। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस का नामदार परिवार हो या फिर यहां बिहार का भ्रष्ट परिवार, इनकी संपत्ति आज सैकड़ों-हजारों करोड़ों रुपए में है। गरीब सवर्णों को दिए गए आरक्षण पर पीएम मोदी ने कहा‍ कि हमारे लिए देश के हर वर्ग, हर समुदाय, हर क्षेत्र का विकास जरूरी है। हम सबका साथ-सबका विकास के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। यहीं कारण है कि आजादी के इतिहास में पहली बार सामान्य वर्ग के गरीब युवाओं को भी 10 प्रतिशत का आरक्षण मिल पाया है। इतना ही नहीं ओबीसी आयोग को महामिलावट वालों के तमाम अवरोध के बावजूद संवैधानिक दर्जा देने का काम भी एनडीए सरकार ने किया है।
पीएम मोदी ने कहा कि एनडीए सरकारों की यहीं निष्ठा और यहीं ईमानदारी है जिसके कारण 21वीं सदी का युवा आश्वस्त है। उन्‍होंने कहा कि बिहार हमेशा से शिक्षा और प्रतिभा की भूमि रही है। यहां से निकले आईएएस -आईपीएस और सिविल सेवा के अन्य अफसर देश को आगे बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। बिहार ने जिन पर दशकों तक भरोसा किया, उन्होंने बिहार को बदनामी के सिवाय क्या दिया? उन्‍होंने कहा कि इन लोगों ने आप लोगों से विश्वासघात किया है। जिस जाति के नाम पर इन लोगों ने राजनीति की, उस जाति से इन्हें पार्टी चलाने के लिए कोई योग्य व्यक्ति नहीं मिला। क्या इतनी बड़ी पार्टी में, पार्टी को संभालने की योग्यता और किसी में नहीं है? जिस जाति और समाज ने आंख बंद करके इनके परिवार को अरबों-खरबों का मालिक बनाया, गाड़ी-बंगला-पद-प्रतिष्ठा सब कुछ दिया, उसके साथ भी इन लोगों ने धोखा ही किया। इन्होंने देश को कुछ नहीं दिया, बिहार को कुछ नहीं दिया, अपनी जाति को भी कुछ नहीं दिया। पीएम मोदी ने कहा कि नौजवानों को जाति के नाम पर भ्रमित करके, उनके कंधे पर बंदूक रखकर, इन्होंने अपने ही समाज और जाति को बंधक बना लिया। उन्‍होंने कहा कि हमने 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है, अन्नदाता को सौर ऊर्जा दाता बनाने का काम हाथ में लिया है। इसके लिए बीज से बाज़ार तक नई व्यवस्थाएं खड़ी की जा रही हैं। खेती से जुड़े छोटे खर्चों के लिए पीएम किसान योजना के तहत सीधे किसानों के बैंक खाते में पैसे जमा करने शुरु कर दिए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि इसी तरह जो हमारे पशुपालक साथी हैं, उनके लिए पहली बार किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ऋण की व्यवस्था हमने की है। हमारी प्रेरणा मक्खन खाने वाले बाल गोपाल हैं। हमारी प्रेरणा बांसुरी बजाने वाले कन्हैया हैं।तो हमारी प्रेरणा सुदर्शनचक्र चलाने वाले भगवान कृष्ण भी हैं। पीएम मोदी ने कहा कि जब-जब जरूरत पड़ेगी भारत, आतंकियों को कुचलने के लिए सुदर्शनचक्र धारी कृष्ण का रूप लेकर भी कार्रवाई करेगा। पीएम मोदी बिहार के पालीगंज में भी सिख दंगों का जिक्र करने से नहीं चूके। उन्‍होंने कहा कि 1984 के सिख नरसंहार के लिए कांग्रेस के नामदारों के बयान आपने सुने हैं। उस भीषण हत्याकांड के लिए माफी मांगने के बजाय ये कह रहे हैं हुआ तो हुआ। पीएम मोदी ने कहा कि नामदारों की, कांग्रेस की असली सच्चाई यही है।
आशीष/15 मई 2019