अंतरराष्ट्रीय

अमेरिकी महिलाएं कर रही सेक्स हड़ताल

01/07/2022

- दुनियाभर के लाखों लोग कर रहे है इस ट्रेंडी हैशटैग का इस्तेमाल
वाशिंगटन (ईएमएस)। वर्तमान में दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका में एक ऐसी अजीबो गरीब हड़ताल चल रही है जिसके बारे में न कभी किसी ने सुना होगा और न ही ऐसा हुआ होगा। इस समय सोशल मीडिया में भी अमेरिका काफी ट्रेंड कर रहा है। ट्विटर में #सेक्स स्ट्राइक और #अबस्टीनेंस इस वक्त जबरदस्त ट्रेंड कर रहा है। खबरों के मुताबिक, दुनियाभर के लाखों लोग इस ट्रेंडी हैशटैग का इस्तेमाल भी कर रहे है।
अमेरिकी महिलाएं सेक्स हड़ताल कर रही हैं। यानि अमेरिका में महिलाओं को गर्भपात को फिर से क़ानूनी मान्यता न मिलने तक वो किसी भी पुरुष के साथ संबंध नहीं बनाएंगी। इस हड़ताल ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया है। बैनर और पोस्टर लेकर महिलाएं सड़कों पर हड़ताल करने निकल गई है। महिलाओं के मुताबिक, अगर उनका उनके शरीर पर अधिकार है तो फिर इस पर किसी और का अधिकार तब तक नहीं हो सकता जब तक कि उनकी मर्जी न हो।हड़ताल का समर्थन कर रही महिलाएं सोशल मीडिया पर लिख रही है कि र्भपात महिलाओं का निजी और बहुत संजीदा अधिकार है। लिहाजा जब तक इसे क़ानूनी हक़ नहीं मिल जाता तब तक महिलाएं पुरुषों के साथ संबंध न बनाएं।
वहीं एक अन्य महिला ने लिखा कि स अधिकार को कानूनी मान्यता नहीं मिल जाता तब तक मैं अपने पति के साथ भी संबंध नहीं बना सकती। आखिर हम गर्भवती होने का ख़तरा क्यों उठाएं। जानकारी के लिए आपको बता दें कि अमेरिका की सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात को ग़ैरक़ानूनी घोषित कर दिया है। जिसका मतलब यह है कि अमेरिका में महिलाओं के पास गर्भपात कराने का अब कोई भी ऑप्शन नहीं रहेगा। अब वो अपनी मर्जी से गर्भपात नहीं करा पाएंगी। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले की घोषणा के बाद अमेरिका के 26 राज्यों ने इस पर प्रतिबंध लगाने का कानून बनाने पर विचार भी कर लिया हैं। इस सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद से अमेरिका की महिलाएं एक अनोखी हड़ताल पर निकल गई है।
सुदामा/ईएमएस 01 जुलाई 2022