व्यापार

भारत में 80 रुपए के पार जा सकते हैं पेट्रोल के दाम

18/09/2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय बाजारों में तेल के दाम में फिर से तेजी आ सकती है। सऊदी अरब की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको पर ड्रोन हमले के बाद सोमवार को कच्चा तेल 19.5 फीसदी उछलकर 71.95 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गया है। ऊर्जा विशेषज्ञों का कहना है कि सऊदी कंपनी के हमले का असर आने वाले दिनों में दिखाई देगा। कच्चा तेल रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच सकता है। इसके चलते भारतीय बाजार में भी पेट्रोल 80 रुपये प्रति लीटर के पार जा सकता है। कोटक की एक रिपोर्ट के अनुसार, अगले 15 दिनों में भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम में 5 से 6 रुपए प्रति लीटर का इजाफा हो सकता है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में उछाल आने के कारण भारत की ऑइल मार्केटिंग कंपनियां अगामी पखवाड़े में डीजल और गैसोलीन के दाम में 5 रुपए से 6 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि कर सकती हैं, वहीं पेट्रोल 80 रुपए तक पहुंच सकता है।
एंजल ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने बताया अगर सऊदी अरामको में उत्पादन ज्यादा दिनों तक ठप रहा तो अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें एक बार फिर से बढ़ेगी। अगर, कच्चा तेल 80 डॉलर प्रति बैरल के स्तर के पार निकलता है, तो भारतीय बाजार में भी पेट्रोल 80 रुपए तक पहुंच सकता है। हालांकि, स्थिति अगले कुछ दिनों में साफ होगी। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा सऊदी अरब की तेल उत्पादन संयंत्र पर हुए हमलों के बाद भारत को तेल की आपूर्ति बाधित नहीं होगी। भारतीय राजदूत तेल की आपूर्ति के लिए अरामको के संपर्क में हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अरामको पर हुए ड्रोन हमले के बाद स्ट्रैटिजिक पेट्रोलियम रिजर्व से तेल का इस्तेमाल करने को मंजूरी दे दी है। सऊदी अरब पर हमले के कारण जिससे तेल की कीमतों पर प्रभाव पड़ सकता है, मैंने स्ट्रैटिजिक पेट्रोलियम रिजर्व से तेल के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है, ताकि जरूरत पड़ने पर बाजारों में इसकी अच्छी तरह से आपूर्ति की जा सके।
अनिरुद्ध/ईएमएस 18 सितंबर 2019