मनोरंजन

(रंग-संसार) बिग बी से हुई बात तो आमिर सिर्फ 'यस सर' ही कह सके

06/11/2018

बॉलीवुड के परफेक्टनिस्ट हीरो आमिर खान की बात ही निराली है, ऐसे में उनका कहा मानों किताब की इबारत हो जाता है, वो जो करते हैं वो मील का पत्थर बन जाता है, ऐसे महान कलाकार जब दूसरे महान कलाकार की तारीफ करते हैं तो वाकई लगता है कि इनमें कुछ तो महानता है जिस कारण वो ऐसा कर पाते हैं। सफलता का गुरुर तो मानों उन्हें छू तक नहीं गया है, इसलिए आमिर जब कॉफी विद करण शो में आए तो उन्होंने वो बातें साझा कीं जो कोई दूसरा आसानी से नहीं बता सकता था। दरअसल आमिर अपने तीन दशक पुराने बॉलीवुड करियर की याद करते हुए बताते हैं कि उन्हें पहली बार जब सिने जगत के महानायक अमिताभ बच्चन का फोन आया तो उन्हें लगा कि उनके साथ मजाक किया जा रहा है। अब यह अलग बात है कि आमिर फिल्म 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तां में अमिताभ के साथ स्क्रीन शेयर करने जा रहे हैं, इसलिए इस राज से भी उन्होंने पर्दा उठा दिया है। वैसे भी फिल्मी दुनिया में कदम रखने वाले प्रत्येक सितारे की एक ही चाहत होती है कि उन्हें करियर में एक न एक बार बिग बी के साथ काम करने का मौका मिल जाए। इस बात को कौन बनेगा करोड़पति शो में आमिर अपने ही अंदाज में कह चुके हैं। उनकी चाहत फिल्म 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तां' के साथ पूरी हो रही है। बहरहाल मशहूर फिल्म निर्माता करण जौहर के टॉक शो 'कॉफी विद करण' में आमिर ने बताया कि बात उन दिनों की है जबकि वो ऊटी में फिल्म 'जो जीता वही सिकंदर' की शूटिंग कर रहे थे। तभी बिग बी का होटल के लैंडलाइन में फोन आया और उन्हें होटल की रिसेप्शनिस्ट ने बताया कि अमिताभ बच्चन का फोन आया है तो उन्हें ऐसा लगा मानों कोई उनके साथ मजाक कर रहा है। तब बात नहीं हो सकी फिर दूसरी बार फोन आने पर जैसे ही आमिर ने सामने से आती आवाज सुनी तो वो फौरन पहचान गए कि ये तो बिग बी ही हैं। उस समय बिग बी अमिताभ ने आमिर को जो फोन किया था वह लंदन में होने वाले एक कॉन्सर्ट के सिलसिले में था। उस दौरान अमिताभ बच्चन जो कह रहे थे आमिर सिर्फ सुन और यस सर, यस सर ही कह रहे थे। इस संबंध में आमिर का कहना है कि अगर वो उस समय मुझसे यह पूछते कि ऊटी का मौसम कैसा है? तब भी शायद मैं सिर्फ और सिर्फ 'यस सर' ही कहता। आपको बतला दें कि आमिर करण के शो में अपनी दीवाली पर रिलीज होने वाली फिल्म 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तां' को प्रमोट करने पहुंचे थे।

शादी अपनी जगह है लेकिन रणवीर के लिए काम भी है जरुरी
विचार करें कि आप कुंवारे हैं और आपकी चंद दिनों में शादी होने वाली है, इसके बाद भी आपसे कोई कहे कि आप तो जीतोड़ मेहनत के साथ अपने काम को अंजाम दें, तो आपको कैसा लगेगा। संभव है कि आप खीज जाएं, लेकिन रणवीर सिंह कुछ अलग मिट्टी के बने हैं, इसलिए वो शादी की तारीख नजदीक आने के बावजूद अपने प्रोजेक्ट्स को पूरा करने में लगे हुए हैं। यहां आपको बतलाते चलें कि बॉलीवुड स्टार रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की शादी इसी माह के मध्य में होने जा रही है। इसलिए अब शादी की रस्में भी शुरू हो गई हैं. जिसके वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि शादी के कारण दीपिका इस वक्त किसी फिल्म में व्यस्त नहीं हैं ताकि सभी काम आसानी से निपट जाएं। अब बात रणवीर की करें तो मालूम चलता है कि रणवीर इन दिनों रोहित शेट्टी की फिल्म "सिंबा" की शूटिंग करने में पूरे लगन से लगे हुए हैं। इसका मतलब यह नहीं कि वो शादी समारोह की तरफ से ध्यान हटा चुके हैं बल्कि उन्होंने टाइम मैनेजमेंट ऐसा कर रखा है कि शूटिंग के बाद वो शादी की रस्मों-रिवाजों को भी पूरा करते देखे जा रहे हैं। हद यह है कि शादी की रस्म अदा करने के लिए ही रणवीर महज एक दिन के लिए फ्लाइट लेकर मुंबई आए और उसके बाद ही वापस भी हो गए। सूत्रों का कहना है कि फिल्म सिंबा की शूटिंग 7 नवंबर तक पूरी हो जाएगी उसके बाद रणवीर पूरी तरह शादी फंक्शन पर ध्यान देंगे और उनके अपने करीबी दोस्तों और रिश्तेदारों को भी कोई शिकायत का मौका नहीं मिलेगा।

मनोज वाजपेयी को ना सुनने में आता है मजा
मनोज वाजपेयी अर्थात एक दमदार अभिनय का लोहा मनवाने वाला ऊपर से सख्त लेकिन दिल से नरम व्यक्ति जैसा आज है वैसा तो शुरु से हरगिज ही नहीं था। दरअसल एक समय वो भी था जब मनोज ने राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में दाखिला नहीं मिलने के कारण आत्महत्या करने तक का विचार कर लिया था। बहरहाल अब वो अपने अभिनय के दम पर बुलंदियां छू रहे हैं और ऐसे में उनके मुंह से यह सुनकर हैरानी होती है कि उन्हें आज भी ना सुनने में ही मजा आता है। इस मामले में मनोज वाजपेयी का खुद कहना है कि उन्होंने 'ना' शब्द सुनने के 'अपमान' का आनंद उठाना सीख लिया है। बकौल मनोज, शुरुआती वक्त में उन्होंने जितनी बार भी ना सुना, उस ना ने उन्हें उतना ही व्यावहारिक बना दिया। इंकार ने कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित भी किया। यहां आपको बतला दें कि मनोज वाजपेयी अपने अनुभवों और दिल की बातों को धर्मशाला अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में शेयर कर रहे थे। यहां उनकी फिल्म 'भोंसले' का प्रदर्शन भी किया गया। मनोज वाजपेयी कहते हैं कि इंकार सुनना कुछ और नहीं बल्कि आपके लिए और कड़ी मेहनत करने का संकेत मात्र है। इस लिए ना को नकारात्मकता से न जोड़ें। यही वजह है कि अब ना सुनकर भी मैं तो आनंदित होता हूं। बहरहाल यह बात मनोज वाजपेयी जैसी जीवट व्यक्ति ही कह सकते हैं, वर्ना सामान्य इंसान को तो 'ना' या 'इंकार' ही तोड़कर रख देता है।

प्रियंका ने सात फेरों से पहले जेठानी को पीठ पर बैठाकर घुमाया
अपने अभिनय के दम पर बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक में नाम कमा चुकीं प्रियंका चोपड़ा इन दिनों विदेशी मंगेतर निक जोनस से शादी करने को लेकर सुर्खियां बटोर रही हैं। वैसे भी बॉलीवुड में तो मानों शादी का माहौल चल रहा है। अभी हाल ही में कुछ जोड़े शादी के बंधन में बंध चुके हैं तो वहीं 14-15 नवंबर को दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह भी शादी करने जा रहे हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर प्रियंका और निक की तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिनमें दोनों एक दूसरे का हाथ थामें नजर आते हैं। बहरहाल अब बात इससे आगे बढ़ गई है और बताया जा रहा है कि प्रियंका चोपड़ा इससे पहले कि अपने मंगेतर और अमेरिकन सिंगर निक जोनस के साथ सात फेरे लेतीं उन्हें अपनी जेठानी को पीठ पर बैठाकर घुमाना पड़ा। दरअसल प्रियंका की शादी सभी के लिए उत्सुकता का केंद्र बनी हुई है, सभी इस पर चर्चा करना चाहते हैं। यहां आपको बतला दें कि न्यूयॉर्क में ब्राइडल शॉवर हुआ उसके बाद एक बैचलरेट पार्टी एम्स्टर्डम में हुई। इसी दौरान प्रियंका अलग-अलग आउटफिट्स में कहर ढाती नजर आईं। इसी पार्टी का एक वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें प्रियंका अपनी जेठानी सोफी टर्नर को पीठ पर बैठाए दिखी हैं। वो उन्हें किसी बच्चे की तरह पीठ में बैठा घूमा रही हैं। बहरहाल आपको बतला दें कि यह मस्तीभरा वीडियो है, जिसमें प्रियंका कहती नजर आ रही हैं कि 'आज-कल के जमाने में तो अपनी सिस्टर-इन-लॉ के लिए ऐसा करना पड़ता है।' बात जो भी हो लेकिन इन दोनों में खास बॉन्डिंग है जो साफ देखने को मिल रही है।
ईएमएस/ 06 नवम्बर 2018