राज्य समाचार

भेल क्षेत्र में पसरा है अंधेरा, स्ट्रीट लाइटें बंद

13/04/2019


लाइट सुधरवाने लगा चुके है भेल प्रशासन से गुहार
भोपाल (ईएमएस)। राजधानी के भेल क्षेत्र में इन दिनों रात के समय अंधेरा पसरा रहता है, क्योंकि सडकों की ज्यादातर लाइटें बंद पडी हुई है। भेल नगर प्रशासन से शिकायत करने के बावजूद इस ओर ध्यान दिया जा रहा है। भेल की तीनों प्रतिनिधि यूनियन इंटक, एबु, बीएमएस के पदाधिकारी कई बार टाउनशिप में बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट को सुधरवाने भेल नगर प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं। शिकायतों के बाद इक्का-दुक्का स्ट्रीट लाइट को ठीक कर दिया जाता है, लेकिन एक सिरे से सभी स्ट्रीट लाइट को नहीं सुधारा जाता है। भेल आवासों की सड़कों के सामने स्ट्रीट लाइट बंद है। इतना ही नहीं कॅरियर कॉलेज से अवधपुरी तिराहा, आईटीआई रोड सहित अन्य मुख्य मार्गों पर भी लाइट बंद पड़ी है। हालांकि भेल अन्ना नगर से लेकर अवधपुरी तिराहे तक सीपीए की सड़क है, इसलिए भेल नगर प्रशासन कहता आया है कि हम क्यों स्ट्रीट लाइट सुधरवाएं? यही नहीं भेल नगर प्रशासन बरखेड़ा, पिपलानी, गोविंदपुरा व हबीबगंज की सड़कों पर स्ट्रीट लाइट नहीं सुधरवा रहा।
भेल टाउनशिप में स्ट्रीट लाइट बंद होने से 50 हजार की आबादी अंधेरे की समस्या से परेशान हो रही है। भेल के खंडहर आवासों के सामने सड़कों पर अंधेरा पड़ा रहता है। इससे आने-जाने वाले वालों को लूट की घटना होने का डर बना रहता है।
युवा इंटक अध्यक्ष दीपक गुप्ता ने बताया कि आगामी भेल नगर सलाहकार समिति की बैठक में बंद स्ट्रीट लाइट की समस्या उठाई जाएगी। इससे पहले कई बाद भेल नगर प्रशासन कार्यालय में जाकर स्ट्रीट लाइट की समस्या उठा चुके हैं। लेकिन समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा। सड़कों पर अंधेरा होने से चोरी-लूट की घटनाएं होने से इनकार नहीं किया जा सकता। इस संबंध में भेल नगर प्रशासक अनंत टोप्पो का कहना है कि शिकायत के तुरंत बाद विद्युत शाखा के कर्मचारियों को भेज कर बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट को सुधरवाया जाता है। लोग शिकायत ही नहीं करेंगे तो कैसे पता चलेगा कि कहां स्ट्रीट लाइट बंद पड़ी हैं और कहां चालू है।
सुदामा नर-वरे/13अप्रैल2019