राष्ट्रीय

देश के कुछ राज्यों में 18+ के लिए टीकाकरण अभियान शुरू

02/05/2021

नई दिल्ली (ईएमएस)। देशभर में शनिवार से 18 साल से 44 साल तक उम्र के सभी नागरिकों को कोरोना वैक्सीन लगाने की मुहिम शुरू हुई। हालांकि यह अभियान उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और गुजरात के कुछ जिलों में ही शुरू हो सका। वहीं, कई राज्यों ने वैक्सीन का स्टॉक नहीं होने का हवाला देते हुए वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू करने से मना कर दिया है। मुंबई में पहले दिन 18 से 44 साल की आयु के एक हजार लोगों को ही टीका लगाया गया। उत्तर प्रदेश में 18-44 साल वाले लोगों को वैक्सीन लगाने का अभियान तय समय पर शुरू हुआ। टीकाकरण की शुरुआत के समय उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अवंतीबाई वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचे और यहां 18 से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए लिए शुरू किए गए वैक्सीनेशन अभियान का जायजा लिया। शुरुआती दौर में वैक्सीनेशन अभियान सिर्फ सात जिलों में चलाया जा रहा है। ये जिले हैं लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली यानि की इन्हीं सात शहरों में 18 साल से ऊपर वालों को वैक्सीन लगाई जा रही है। छत्तीसगढ़ में भी 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों का वैक्सिनेशन प्रारम्भ हो गया। मुख्यमंत्री के आदेश के मुताबिक, गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले अंत्योदय तथा प्राथमिकता वाले राशन कार्डधारियों को प्रारम्भिक चरण में टीकाकरण शुरू हो गया है। जिले के चारों विकासखण्डों में जोर-शोर से टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। हालांकि कई जिलों में अभी अभियान शुरू नहीं किया जा सका। गुजरात के दस जिलों में टीकाकरण शुरू हो गया। इस दौरान टीकाकरण केंद्रों के बाहर युवा वर्ग के लोग कतार में खड़े होकर अपनी बारी आने की प्रतीक्षा करते दिखे। अधिकारियों ने कहा कि महामारी से सबसे अधिक प्रभावित जिलों अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर, कच्छ, मेहसाणा, भरूच और गांधीनगर में टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार ने टीका निर्माताओं को 2.5 करोड़ खुराकों का ऑर्डर दिया था, जिसमें से राज्य को केवल तीन लाख खुराकें मिली हैं, इसलिए सीमित जिलों में अभियान शुरू किया गया है। मुंबई में 18 से 44 साल की आयु के व्यक्तियों को टीका लगाने के पहले दिन 1,000 लोगों की टीका लगाया गया। बृह्नमुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी ने कहा कि नगर निकाय ने रविवार को 18 से 44 साल की आयु के 2,500 लोगों की टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा, आज हमने अपने पांच केंद्रों में से प्रत्येक केंद्र में 18 से 44 वर्ष की आयु के 200 लोगों की टीका लगाने का लगाने का लक्ष्य रखा था, जिसे हासिल कर लिया गया है। प्रत्येक केन्द्र में 200 लोगों की टीका लगाए जाने का अनुमान है। हालांकि महाराष्ट्र के अन्य जिलों में अभियान अभी शुरू नहीं हो सका।
अजीत झा/देवेंद्र/ईएमएस/नई दिल्ली/02/मई/2021