लेख

असीमित जनाकांक्षाएँ और जगतबहादुर सिंह "अन्नू" (लेखक - प्रतुल श्रीवास्तव/ईएमएस)

06/08/2022

(महापौर पद-शपथ ग्रहण अवसर पर विशेष)
जबलपुर नगर में ढेरों समस्याओं और असीमित जनाकांक्षाओं के बीच आज महापौर के रूप में लोकप्रिय जननेता जगतबहादुर सिंह "अन्नू" शपथ लेने वाले हैं। नगरवासियों के साथ ही "अन्नू" भी जानते हैं कि हमारे नगर की समस्याएं क्या हैं, जनाकांक्षाएँ क्या हैं अतः आज इनका वर्णन उचित नहीं है। चुनाव पूर्व अन्नू जी द्वारा जनता से किये वादे सभी के सामने हैं, उनकी संकल्प शक्ति और क्षमताओं से भी सभी भलीभांति परिचित हैं, इसलिए यदि लोग समस्या मुक्त जबलपुर और उसके व्यवस्थित, आकर्षक विकास के प्रति आशान्वित हैं तो यह अस्वाभाविक नहीं है। हाँ इसके लिए विभिन्न राजनीतिक दलों को अनावश्यक विरोध की नीति त्यागकर नगर विकास के लिए एकजुट होना पड़ेगा। यह ध्यान रखना पड़ेगा कि अब जनता बहुत समझदार है।
धर्मनिष्ठ, ईमानदार, अपने वचनों पर कायम रहने वाले, पीड़ितों की सेवा को तत्पर जगतबहादुर सिंह "अन्नू" उन लोगो में से एक हैं जो किसी पद के कारण नहीं वरन अपने कार्यों से पहचाने गए हैं। महापौर का पद उनकी जनहितकारी शक्तियां बढ़ा सकता है शोभा नहीं। शोभा और गरिमा तो "अन्नू" जी महापौर पद की बढ़ाएंगे।
बी.काम. के साथ ही मैनेजमेंट में डिप्लोमा करके स्वयं अपना कार्य शुरू करने वाले जगतबहादुर सिंह "अन्नू" नरसिंह वार्ड से पार्षद रह चुके हैं। वे प्रवक्ता शहर जिला कांग्रेस कमेटी, उपाध्यक्ष शहर जिला कांग्रेस कमेटी, प्रवक्ता कांग्रेस पार्षद दल न. नि. जबलपुर, सांसद प्रतिनिधि राज्य सभा (श्री विवेक तनखा) रह चुके हैं। वर्तमान में वे शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के साथ ही विभिन्न खेल संस्थाओं के प्रमुख पदों व 24 से अधिक सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के प्रमुख पदों पर हैं और अब वे नगरवासियों की असीमित इच्छाओं-आकांक्षाओं की आशा के केंद्र महापौर भी हैं।
नगर विकास के लिए उनकी छटपटाहट और योजनाओं तथा उनकी अब तक रही सटीक, सफल कार्यशैली को देखते हुए जन विश्वास है कि उनका महापौर कार्यकाल नगर का स्वर्णकाल भी हो सकता है। वे नगर के लंबित धीमे विकास को गति देने के साथ ही अनेक नए कार्य भी शुरू करने वचन बद्ध हैं। उनसे संस्करधानी के साहित्य, कला-संस्कृति प्रेमियों ने सस्ते आडिटोरियम उपलब्ध कराने की मांग भी की थी। निःसन्देह संस्कारधानी को संस्कारधानी बनाये रखने के लिए ऐसा करना बहुत आवश्यक है।
यदि अन्नू के द्वारा किये गए कार्यों का अवलोकन करें तो स्पष्ट हो जाता है कि वे पहले जनसेवक हैं फिर राजनीतिज्ञ। वे अब तक 20 हजार से अधिक लोगों को वैष्णव देवी धाम की यात्रा करवा चुके हैं। करोना काल में जबलपुर में आक्सीजन की कमी दूर करने उन्होंने आक्सीजन टैंकर की व्यवस्था करवाई। लॉक डाउन के दौरान नगर के विभिन्न क्षेत्रों में 9 अन्नपूर्णा रसोइयों की स्थापना कर लाखों लोगों को भोजन उपलब्ध करवाया। अनेक करोना प्रभावितों के उपचार की व्यवस्था बनवाई। महिलाओं के लिए वे प्रतिवर्ष सुहागलों का कार्यक्रम आयोजित करते आ रहे हैं। उनके द्वारा निरंतर जारी सफाई कर्मियों का सम्मान, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का सम्मान व उन्हें आवश्यक समान उपलब्ध कराना। शहर के बुजुर्गों का सम्मान-अभिनंदन। कांवड़ यात्रा में सहयोग-सेवा। जन समस्याओं के विरुद्ध आंदोलन। विद्युत कटौती का प्रभावी विरोध, सहारा निवेशकों के हितों के रक्षार्थ आवाज बुलंद करना। दिव्यांग बच्चों के हितार्थ सक्रिय रहना। ये सब अन्नू जी के ऐसे काम हैं जिनने उन्हें नगरवासियों का चहेता बना दिया है।
आज जगतबहादुर सिंह "अन्नू" के महापौर पद के शपथ ग्रहण समारोह के अवसर पर उनके सभी मित्रों, परिचितों, शुभचिंतकों व समस्त नगरवासियों की ओर से उनकी सफलता हेतु शुभकामनाएं। विश्वास है कि वे लोगों की अपेक्षाओं पर खरे उतरेंगे।
.../ 6 अगस्त 2022