मनोरंजन

(मुंबई) अभिनेता बनने से पहले स्पॉट ब्वॉय थे अनिल कपूर

02/12/2018

-अपने कॅरियर के शुरुआती दिनों को लेकर किए कई खुलासे
मुंबई (ईएमएस)। बालीवुड के जानमाने अभिनेता अनिल कपूर ने खुलासा किया कि वह ऐक्टर बनने से पहले स्पॉट ब्वाय, कास्टिंग डायरेक्टर और प्रॉडक्शन मैनेजर सहित तमाम काम कर चुके हैं। अनिल कपूर बताते हैं, 'अपने ऐक्टिंग करियर के पहले मैं स्पॉट बॉय भी था। सबको चाय पिलाता था। पणजी (गोवा) में चल रहे भारत के 49वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में अभिनेता अनिल कपूर अपनी बेटी रिया कपूर के साथ पहुंचे है। यहां इफ्फी के मंच पर अनिल कपूर की एक मास्टर क्लास का आयोजन किया गया। इस मौके पर अनिल कपूर ने अपने शुरूआती दिनों के बारे में बात करते हुए कई अहम खुलासे किए। उन्होंने आगे कहा कि बाद में फिल्म हम पांच के सेट पर मैं बंगलुरु, मैसूर और मेलकोट में था, यह साल शायद 1975 का था। मुझे आज भी फिल्म हम पांच के सेट की सब बातें याद हैं। फिल्म में मिथुन चक्रवर्ती, अमरीश पुरी साहब, शबाना आजमी, नसीरुद्दीन शाह सहित और भी सितारे थे। वह फिल्म बहुत अच्छी थी।' 'मैं उस फिल्म में एक साथ बहुत काम कर रहा था, फिल्म का कास्टिंग डायरेक्टर और प्रॉडक्शन मैनेजर सब कुछ था। फिल्म के निर्देशक थे बापू साहब, वह बहुत ही कमाल के व्यक्ति थे, आज वह नहीं हैं, लेकिन आज अगर मैं आपके लोगों के सामने बैठा हूं तो उनकी वजह से हूं।
बापू साहब ऐसे फनकार थे, जिन्होंने मेरे अंदर कलाकार देख लिया था। कैमरा रोल होने से पहले जब राज बब्बर या नसीर साहब का शॉट होता था तो वह मुझे कैमरे के सामने खड़े कर देते थे और खुद मुझे कैमरे से देखते थे, मैं शॉट के लिए गिर भी जाता था, बाकी सब कुछ भी करता था।''बापू साहब ने फिल्मों के प्रति मेरा पैशन देख कर मुझे तेलुगु फिल्म ऑफर की थी, उस तेलुगु फिल्म का नाम था वामसा वरुक्षम, इस तरह देखा जाए तो मेरी पहली फिल्म तेलुगु में थी। वैसे उससे पहले मैंने फिल्म तू पायल मैं गीत में यंग शशि कपूर का रोल किया था। हम पांच में जो मेरी शूटिंग प्रैक्टिस के विडियो बन गए थे, वह मैंने अपने साथ रख लिया था और उसी विडियो को मुंबई में मैंने शबाना आजमी और जावेद अख्तर सहित कई और लोगों को दिखाया।' 'उसी विडियो को देखकर रमेश सिप्पी ने मुझे अपनी एक फिल्म में साइन कर लिया था, फिल्म का नाम था शतरंज, फिल्म में मेरे अलावा अमिताभ बच्चन और अमजद खान भी थे, लेकिन वह फिल्म कभी बनीं ही नहीं, डब्बा बंद हो गई थी। खैर यह बहुत अच्छा हुआ था कि वह फिल्म कभी नहीं बनीं क्योंकि बाद में उसी कहानी पर फिल्म मेरी जंग बनीं और इस बार अमिताभ बच्चन वाला रोल मैंने किया था।' अनिल कपूर ने कहा कि चलो अच्छा ही हुआ फिल्म डब्बा बंद हो गई नहीं अमिताभ बच्चन वाला रोल मुझे कैसे मिलता और फिर आज यहां तक कैसे पहुंच पाता।
सुदामा/ईएमएस 02 दिसंबर 2018