राज्य समाचार

असम के मीडिया प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की

11/09/2019

शिमला (ईएमएस)। असम से हिमाचल प्रदेश में ‘गुड विल मिशन’ पर आए मीडिया प्रतिनिधिमण्डल ने आज यहां मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से भेंट की। यह मीडिया प्रतिनिधिमण्डल एक सप्ताह के हिमाचल दौरे पर है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रतिनिधिमण्डल का स्वागत करते हुए कहा कि छोटा राज्य होने के बावजूद हिमाचल प्रदेश देश के बड़े राज्यों के लिए विकास का आदर्श बनकर उभरा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रकृति ने हिमाचल को स्वच्छ जलवायु प्रदूषण रहित वातावरण से नवाजा है, जिससे यह पर्यटकों का पसंदीदा गंतव्य बन कर उभरा है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में नए क्षेत्रों को पर्यटन के लिए विकसित करने के उद्देश्य से ‘नई राहें, नई मंजिलें’ योजना आरम्भ की है। राज्य सरकार जिला मण्डी के जंजैहली, जिला शिमला के चांशल, कांगड़ा के बीड बिलिंग और पौंग डैम को नए पर्यटक गंतव्यों के रूप में विकसित कर रही है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि अपने पहले बजट में प्रदेश सरकार ने 30 नई योजनाओं की घोषणा की थी, जिन्हें कार्यान्वित किया जा चुका है। राज्य सरकार की अभिनव पहल जनमंच कार्यक्रम घर-द्वार पर लोगों की समस्याओं का निपटारा करने में वरदान सिद्ध हुआ है। उन्होंने कहा कि जनमंच के दौरान अब तक लगभग 40,000 से अधिक समस्याएं प्राप्त हुईं है और इनमें से अधिकतर का निपटारा कर दिया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि विकासात्मक प्रयासों को मानवीय चेहरा देने के लिए राज्य सरकार ने बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने के लिए आयु सीमा 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष की, जिससे लाखों वृद्धजन लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि जो परिवार केन्द्र सरकार द्वारा आरम्भ की गई उज्ज्वला योजना के तहत शामिल नही हैं उनको निःशुल्क गैस कुनेक्शन उपलब्ध करवाने के लिए प्रदेश सरकार ने गृहिणी सुविधा योजना आरम्भ की है। इसी तरह भारत सरकार की आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं उठा पाने वाले परिवारों के लिए हिमकेयर योजना आरम्भ की है, जिसके अन्तर्गत 5 लाख रुपये तक का सुरक्षा बीमा उपलब्ध करवाया गया है।
जय राम ठाकुर ने उन परिवानों को 2000 रुपये प्रतिमाह वित्तीय सहायता प्रदान करने के लक्ष्य से ‘सहारा योजना’ आरम्भ की है, जिनका कोई सदस्य गम्भीर रोग से पीड़ित है। इन सभी योजनाओं का लक्ष्य समाज के प्रत्येक वर्ग का सामाजिक-आर्थिक उत्थान है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने प्रदेश में शिक्षा, स्वास्थ्य और बागवानी के क्षेत्रों में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है। हिमाचल प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में केरल के बाद दूसरे स्थान पर है तथा स्वास्थ्य क्षेत्र में भी हिमाचल के मानक देश में सर्वश्रेष्ठ हैं।
प्रतिनिधिमण्डल ने जय राम ठाकुर को असम के मुख्यमंत्री का पत्र सौंपा।
मुख्यमंत्री ने असम के मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया और उन्हें हिमाचल प्रदेश आने का न्योता दिया।
मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुण्डू ने प्रतिनिधिमण्डल को हिमाचल प्रदेश की विशिष्टताओं के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में राज्य हर क्षेत्र में तीव्र विकास कर रहा है। असम सरकार के जन सम्पर्क के संयुक्त निदेशक के. बारगोहेयर और वरिष्ठ सूचना अधिकारी समर कालिता ने मुख्यमंत्री और मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव को सम्मानित किया। निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग हरबन्स सिंह ब्रसकोन, संयुक्त निदेशक महेश पठानिया और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
कैट ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर प्रतिबन्ध का समर्थन किया
-11 सितंबर, विजयेन्दर शर्मा