क्षेत्रीय

रोजगार मांगने जनसुनवाई पहुंची खेतिहर मजदूर महिलाएं

11/06/2019

खरगोन (ईएमएस)। बड़वाह जनपद के ग्राम भानबरड़ की महिलाएं मंगलवार को गांव के खेतों में मजदूरी के बदले दिए जाने वाले मेहनताने में बढ़ोत्तरी के साथ ही पंचायत से मुलभूत सुविधाएं दिलाने की मांग को लेकर जनसुनवाई पहुंची। डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन सिंह गौड़ को समस्या बताते हुए सुशीला, पार्वती, रमती, प्रमिला, किरण, रेखा, बिरज आदि ने बताया कि वे करीब 10 वर्षों से गांव के ख्ेातों में मजदूरी करती आ रही है और बदले में केवल मात्र 100 रुपए दिए जाते है जो बेहद कम है। जबकि शासकिय काम होता है तो उसमें जेसीबी, पोकलेन जैसी मशीनरी का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे उन्हें रोजगार नहीं मिलता मजबूरन खेतों में ही जाना पड़ता है। आर्थिक तंगी के चलते कम मेहनताने में गुजर बसर करना मुश्किल भरा साबित हो रहा है। राधा, चुंदुबाई, संजुबाई आदि ने पंचायत के सरपंच. सचिव पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि पंचायत में कभी उन्हें कोई रोजगार नहीं दिया गया न ही कुटीर, बीपीएल राशन कार्ड जैसी मुलभूत सुविधाएं मुहैया कराई, जिससे उन्हें महंगाई के दौर में आर्थिक तंगी झेलना पड़ रही है। डिप्टी कलेक्टर से उन्होंने गांव में रोजगार के साधन मुहैया कराने की मांग की। डिप्टी कलेक्टर ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे किसानों से मेहनताना बढ़ाने में कोई मदद नहीं कर सकते, क्योंकि यह उनका निजी मामला है। लेकिन शासकिय कामों में रोजगार दिलाने का प्रयास करेंगे।
-इधर लाडवी पंचायत को नगरसीमा में शामिल करने की मांग
जिले की महेश्वर जनपद की ग्राम पंचायत लाडवी से आए संतोष ठाकुर ने जनसुनवाई में आवेदन सौंपकर लाडवी पंचायत को नगरपंचायत मंडलेश्वर में शामिल किए जाने की मांग की। उन्होंने बताया कि नपं मंडलेश्वर की सीमावृद्धि का निर्देश अनुविभागीय अधिकारी के माध्यम से नपं अधिकारी को दिया जा चुका है लेकिन महेश्वर विधानसभा के प्रभावी राजनेता द्वारा सीमा वृद्धि का काम अपने निजी स्वार्थाे के चलते रुकवा रहे है। जिससे ग्रामीणों में रोष है।
नाजिम/प्रवीण/11/06/2019