मनोरंजन

पीएम मोदी फिल्म पर रोक के बाद बयानबाजी शुरु

12/04/2019

मुंबई(ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' की रिलीज पर चुनाव आयोग ने रोक जो लगाई उसके साथ अन्य विवाद भी खड़े हो गए। बॉलीवुड अभिनेता विवेक ओबेरॉय स्टारर फिल्म पहले 11 अप्रैल को रिलीज होने वाली थी, लेकिन चुनाव आयोग ने इसकी रिलीज पर रोक लगा दी, वहीं दूसरी तरफ खबर यह है कि प्रधानमंत्री मोदी की टीम ने फिल्म पहले ही देख ली है और उन्होंने इसे मंजूरी भी प्रदान कर दी है। इसे लेकर भी अब बयानबाजी शुरु हो गई है। फिल्म निर्देशक ओमंग कुमार ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा कि फिल्म मेकर्स की टीम ने फिल्म के लिए प्रधानमंत्री मोदी से मंजूरी मांगी थी। वहीं ओमंग का दावा है कि जब फिल्म शूट हो रही थी तब व्यक्तिगत तौर पर कभी प्रधानमंत्री से मुलाकात नहीं हुई। फिल्म बनने के बाद प्रधानमंत्री और उनकी पूरी टीम को फिल्म दिखाई गई और उन्होंने इसे ओके कहा। इस प्रकार ओमंग का दावा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने खुद भी फिल्म देखी और मंजूरी दी थी। गौरतलब है कि फिल्म को लेकर विरोधी राजनीतिक पार्टियों ने हमला बोला है और अनेक विवाद भी खड़े हो गए हैं। ऐसे में फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' के प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने विरोधियों को भी जवाब देने का काम किया है। संदीप सिंह कहते हैं कि 'यह फिल्म वोटर्स को भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी के फेवर में नहीं करती है। अगर यही मामला है तो फिर क्यों सारी पार्टियां कैंपेन करना बंद नहीं करतीं और मतदाताओं को लुभाने के लिए फिल्में ही क्यों नहीं बनातीं?'
१२/०४/२०१९ ईएमएस