राष्ट्रीय

डिवीज लैब के चेयरमैन मुरली का वेतन 58.80 करोड़

12/08/2019

हैदराबाद (ईएमएस)। डिवीज लैबोरेटरीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुरली के. डिवी को 2018-19 में वेतन और कमिशन समेत कुल 58.80 करोड़ रुपये का पारिश्रमिक दिया गया। यह भारतीय दवा कंपनियों में किसी भी कार्यकारी को मिला सर्वाधिक मेहनताना है। कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार मुरली के पारिश्रमिक में पिछले साल की तुलना में 46.30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कंपनी ने इस वित्त वर्ष में कार्यकारी निदेशक एनवी रमण को 30 करोड़ रुपए और मुरली डिवी के बेटे और पूर्णकालिक निदेशक किरण एस डिवी को 20 करोड़ रुपए मेहनताने के रूप में मिले। मुरली डिवी को कमिशन के रूप में 57.61 करोड़ रुपए मिले। वित्त वर्ष 2017- 18 के दौरान मुरली डिवी को 40.20 करोड़ रुपये का पारिश्रमिक प्राप्त हुआ जिसमें कि 39 करोड़ रुपए कमीशन के तौर पर मिले। कंपनी के कर्मचारियों को इस दौरान मेहनताना में औसतन 3.96 प्रतिशत की वृद्धि मिली। कंपनी को 2018-19 में टैक्स भुगतान के बाद 1,333 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ और 5,036 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ।
एसएस/ईएमएस 12 अगस्त 2019