क्षेत्रीय

शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार कार्यशाला सम्पन्न

06/11/2019

सागर (ईएमएस)। प्रदेश में शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार के लिये प्रदेश की सरकार पूरे मनोयोग से कार्य कर रही है। जरूरत है आप समस्त शिक्षकों के सहयोग की जिससे न केवल बच्चों की शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार होगा साथ प्रदेश का नाम देश के शैक्षणिक पटल पर स्वर्ण अक्षरों में दर्ज होगा। उक्त विचार प्रदेश के कुटीर एवं ग्रामोद्योग, नवीन एवं नवकरणीय उर्जा विभाग मंत्री हर्ष यादव ने देवरी में बुधवार को आयोजित शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार कार्यशाला में व्यक्त किये। कार्यशाला मंत्री श्री यादव ने उपस्थित शिक्षक समुदाय को अपने कार्य को दृढइक्छा ईमानदारी की शपथ भी दिलाई।
इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी डा. महेन्द्र प्रताप तिवारी, डीपीसी एचपी कुर्मी, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी उमाकान्त चौबे, आर.के. जैन, अरूण दुबे, राजकुमार असाटी, धमेन्द्र दुबे सहित बड़ी शिक्षक अध्यापक, शिक्षा विद, व सेवानिवृत्त शिक्षक मौजूदगी थे।
कार्यशाला में मंत्री श्री यादव ने कहा कि शिक्षा के लिये मेरी जो भी जरूरत पड़ेगी मै उसके लिये 24 घण्टे उपलब्ध हूं बस आवष्यकता है आपके सहयोग की। उन्होंने समस्त शिक्षा समुदाय से अपील की कि कमलनाथ सरकार ने अपने वचन को पूरा करते हुये दीपावली के पूर्व 7वां वेतनमान देकर अपना कार्य किया है। अब आप लोग पूरे मनोयोग से शैक्षणिक कार्य कर आने वाली परीक्षा में प्रदेश में देवरी के साथ सागर का नाम रोशन कर अपना दायित्व निभायें। इसके पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी ने शैक्षणिक गुणवत्ता के बारे मेविस्तार से व्यख्या करते हुये सभी शिक्षकों से शैक्षणिक कार्य करने को कहा। डी.पी.सी एचपी कुर्मी ने कक्षा 01 से 08 तक के छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक कार्यो की गतिविधियों की जानकारी दी। जबकि राजकुमार असाटी ने अकादमिक कार्य की जानाकरी देकर शालाओं मे होने वाले अकादमिक कार्य को सरल तरीके से करने के उपाय बताये। सुश्री आंचल आठिया सजय ब्रजपुरिया, संजय चौधरी बीएसी अरूण दुबे, धमेंद दुबे सहित शिक्षक समूदाय मौजूद था।
कार्यक्रम की शुरूआत मॉ. सरस्वती की पूजा अर्चना वंदना के साथ हुई। तत्पश्चात अथिति द्वय का स्वागत स्लेट पेसिल से किया गया। विधानसभा की प्राथमिक शाला समनापुर जादौ, प्राथमिक शाला निगहरी, प्राथमिक शाला गुगवारा की शैक्षणिक गुणवत्ता का प्रस्तुति करण किया गया।
धर्मेन्द्र, 06 नवम्बर 2019