क्षेत्रीय

सडकों पर से नही हट रहा अस्थाई अतिक्रमण, आमजन परेशान

10/06/2019

जौरा (ईएमएस)। नगर परिषद के जिम्मेदार कर्ताधर्ताओं की निष्क्रियता से नगर के व्यस्त बाजारों, प्रमुख चौराहों पर से अस्थाई अतिक्रमण नही हटने से राहगीर, आमजन परेशान है।
जौरा नगर में प्रवेश करते ही पुराने बस स्टेण्ड के पास स्थित हनुमान मंदिर के आसपास, अगल-बगल में सडक पर फल, चाट, पोहे, फूलमाला, हाथठेला द्वारा अवैध रूप से कब्जा करने से यहां प्रात: 6 बजे से ही जाम लगता है। यहां से लेकर मई वाले कुंऐ तक सडक के दोनों तरफ निजी वाहनों के खडे होने, दुकानदारों द्वारा नाले-नालियों के आगे तखत, पटिया, दुकान का अन्य सामान रखने से पैदल राहगीर तक नही निकल पाते है। मई वाले कुंऐ से ऑफीसर कॉलोनी के पास तक भी सडक के दोनों तरफ निजी वाहनों के खडे होने, दुकानदारों द्वारा कूलर, तखत, फर्नीचर का सामान रखने से 20 फुट की सडक 10 फुट की रह जाती है। लिहाजा दिनभर जाम के हालात रहते है। चन्द्रशेखर आजाद रोड से तहसील चौराहा तक भी सडक के दोनों तरफ दुकानदारों द्वारा नाले-नालियों के आगे अस्थाई अतिक्रमण से जाम लगता रहता है। जिससे आमजन पैदल भी नही निकल पाते है। इसी प्रकार के हालात तहसील चौराहे से सदर बाजार, पुराने थाने तक हर समय बने रहते है। अस्पताल रोड, पचबीद्या, श्रीकृष्ण मंदिर रोड पर भी दिनभर बनी रहती है। नाले-नालियों के आगे अस्थाई अतिक्रमण की जानकारी नगर परिषद के जिम्मेदार कर्ताधर्ताओं को होने के बावजूद अस्थाई अतिक्रमण को हटाने की हिम्मत सीएमओ नही कर पा रहे है।

-लोडिंग वाहन, ट्रेक्टर भी परेशानी का कारण
नगर के व्यस्त बाजारों में बिना रोकटोक के लोडिंग वाहनें, रेट, सीमेन्ट, बजरी के ट्रेक्टर ट्रॉलियों के आने जाने से भी जाम लगता रहता है। सदर बाजार, श्रीकृष्ण मंदिर रोड, नया बाजार, गढी स्कूल के पास सहित अन्य बाजारों में भी लोडिंग एवं भारी वाहनों का आना जाना परेशानी का कारण है। महत्वपूर्ण यह है कि एसडीएम, एसडीओपी, टीआई एवं सीएमओ निष्क्रिय बने हुए है।
प्रवीण/10/06/2019