क्षेत्रीय

दो गांवों को जोड़ने वाली जर्जर हालत की सड़क के निर्माण न होने पर ग्रामीणों में आक्रोश

06/08/2022

ललितपुर (ईएमएस)। जहां एक ओर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश में विकास की गंगा बहाने की बात कर रही है और प्रदेश के आखिरी गांव के आखिरी व्यक्ति तक तमाम सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का दम भर रही है। तो वहीं दूसरी ओर जनपद के कई गांव आज तक विकास से कोसों दूर हैं और विकास की वाट जोह रहे है। जनपद में अभी भी कई ऐसे गांव और मजरे मौजूद है जहां आने जाने के लिए संपर्क मार्ग तक नहीं है और यदि है तो काफी बदहाल हालत में है। इसके साथ ही गांव के रास्ते पर पड़ने वाली छोटे छोटे पुल काफी जर्जर हालत में है जिनका भी निर्माण नहीं हो रहा है, जिस कारण आम जनमानस को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जनपद में ऐसा ही एक गांव विकास खण्ड बार क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम देवरान है जो आज भी विकास की बाट जोह रहा है।
मिली जानकारी के अनुसार ग्राम देवरान से बस्त्रावन होकर बार ब्लॉक को जोड़ने वाला संपर्क मार्ग पिछले कई वर्षों से जर्जर हालत में है और आज भी उसकी स्थिति और जर्जर हो चुकी है। इस सम्पर्क मार्ग पर जगह जगह काफी गड्ढे हो गए है । देवरान गांव से करीब 300 मीटर की दूरी पर नाले पर बनी पुलिया कई वर्षों से जर्जर हालत में है। बारिश के पानी के तेज बहाव से साल दर साल यह पुलिया आज टूटने की कगार पर है, जिस पर से गुजरने वाले किसी भी वाहन चालक या नाले के उस पार बने प्राथमिक विद्यालय रावतयाना आदिवासी स्कूल में पढ़ने वाले छोटे बच्चों के साथ कभी भी कोई गंभीर घटना घटित होने का खतरा बना हुआ है। ग्राम देवरान के ग्रामीणों द्वारा कई बार प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ इलाके के विधायक और सांसद को ज्ञापन देकर इस समस्या से अवगत कराया गया लेकिन किसी भी अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि ने इसका संज्ञान नहीं लिया। जिस कारण इस इलाके के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस मामले में गांव में रहने वाले विजय सिंह यादव हरी राम और राम सेवक सहित तमाम ग्रामीणों का कहना है कि किसी दिन तेज बारिश के बहाव से यह पुलिया पूरी तरह से क्षतिग्रस्त होकर टूट जाएगी साथ ही देवरान से ब्लॉक बार को जोड़ने वाला यह संपर्क मार्ग टूट जाएगा। देवरान के ग्रामीणों द्वारा जिलाधिकारी व जिले के मुख्य ग्राम विकास अधिकारी से यह मांग की जा रही है कि देवरान से वस्त्रावन होकर ब्लॉक बार को जोड़ने वाले इस संपर्क मार्ग पर बनी जर्जर हालत में हो चुकी पुलिया व सड़क मार्ग का निरीक्षण कर उसको जल्द से जल्द दुरुस्त करवाया जाए, अन्यथा ग्रामवासियों द्वारा सांसद के अलावा प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी इसके बारे में लिखित तौर पर अवगत कराने को बाध्य होंगे। ईएमएस/जयेश बादल/06 अगस्त 2022