राज्य समाचार

(इन्दौर) बगदाद में ग्याहरवीं शरीफ मनाने के लिए 200 अकीदतमंद जायरीनों का काफिला रवाना

07/12/2018

इन्दौर (ईएमएस)। मक्का-मदीना और बगदाद पहुंचकर देश की तरक़्क़ी और खुशहाली के लिए खास तौर पर दुआ मांगेंगे।ये कहना था खजराना से उमरह ज़ायरीन और हज़रत नाहरशाह वली दरगाह कमेटी के सदर हाजी युनुस पटेल का। खजराना दरगाह मैदान पर उमराह के सफर पर जाने वाले हज़रत नाहरशाह दरगाह कमेटी के सदर हाजी युनुस पटेल सहित सभी जायरीनों (श्रद्धालुओं) का स्वागत हाजी उस्मान नूर पटेल, अन्नू पटेल,नासिर शाह,सलीम अंकल, मंसूर पटेल, असगर पटेल, पत्रकार दीपक असीम, इक़रार चौधरी, आरिफ बरकाती, हाजी गुलाम मोइनुद्दीन, अज़हर पटेल, रहमत पटेल, शाहरुख पटेल, अमन पटेल, रहमान शाह यलगार, कैप्टन इसरार तश्तरी, नूर हुसैन आदि और विभिन्न संस्थाओं द्वारा पुष्पमाला पहनाकर और इत्र लगाकर किया। जैसे ही ज़ायरीन विदा किये गए तो परिजनों की आंखें नम हो उठीं। हाजी युनुस पटेल ने बताया मक्का मदीना में उमराह सफर के साथ बगदाद में ग्याहरवीं शरीफ मनाने के लिए 200 अकीदतमंद जायरीनों का काफिला रवाना हुआ।तक़रीबन 22 दिन के सफर में मक्का, मदीना, ईरान, इराक, तुर्की, बगदाद, कर्बला, तेहरान स्थित मुक़द्दस मुक़ामात की ज़ियारत करेंगे। हज़रत गौस पाक के रोज़े पर हाज़िरी देते हुए ग्यारहवीं शरीफ को बेइंतेहा अक़ीदत के साथ मनाएंगे।जायरीनों का मानना है कि वे बड़े ख़ुशनसीब हैं कि इतने मुक़द्दस मुक़ामात पर रब ने हाज़िरी का मौका दिया।
उमेश/पीएम/07 दिसम्बर 2018