राज्य समाचार

(शाजापुर) निर्वाचन आयोग ने कमजोर और अशक्त मतदाताओं को मतदान के लिए सुविधा प्रदान कर अच्छी पहल की है-श्रीमती धापू बाई सोनगरा

06/12/2018

- शतायु मतदाताओं का किया सम्मान
शाजापुर (ईएमएस)। निर्वाचन आयोग द्वारा कमजोर और अशक्त (पीडब्लूडी) मतदाताओं को मतदान के लिए वाहन की सुविधा प्रदान कर प्रशंसनीय कार्य किया है। इससे कमजोर और अशक्त मतदाता भी लोकतंत्र के निर्माण में अपनी भूमिका का निर्वहन कर पाए हैं।
यह बात नीछमा की 103 वर्षीय धापुबाई पति रामसिंह सोनगरा ने 28 नवम्बर को विधानसभा निर्वाचन के लिए हुए मतदान के दौरान चर्चा करते हुए कही। उन्होंने कहा कि आयोग की इस पहल से सभी शतायु मतदाता प्रसन्न हैं।
हुसैना बी ने बीमार होते हुए भी देवास से आकर मतदान किया
मक्सी के वार्ड नम्बर 11 भटौड़ मार्ग निवासी हुसैना बी पति यूसूफ भाई ने बीमार होते हुए भी देवास से आकर मतदान किया। हुसैना बी मतदान के एक दिन पूर्व अचानक बीमार हो गई थी। हुसैना बी को देवास में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। चंूकि 28 नवम्बर को मतदान होना था और हुसैना बी की प्रबल इच्छा मतदान करने की थी, इसे देखते हुए उसके परिवारजन उसे देवास से केवल मतदान कराने के लिए लेकर आए। हुसैना बी ने अपरांह 3.30 बजे मतदान किया। हुसैना बी ने चर्चा में बताया कि वह चुनाव के दौरान मतदान अवश्य करती है। इस बार निर्वाचन आयोग ने शतायु मतदाताओं के लिए किए गए प्रबंध से वह खुश है।
102 वर्षीय केसरबाई ने मजबूत लोकतंत्र के निर्माण में अपनी भागीदारी निभाई
शाजापुर नगर की 102 वर्षीय केसरबाई ने विधानसभा निर्वाचन-2018 के लिए मतदान कर जागरूकता का परिचय देते हुए मजबूत लोकतंत्र के निर्माण में अपनी भागीदारी निभाई। विधानसभा क्षेत्र 167-शाजापुर की निवासी केसरबाई पति नाथूलाल की उम्र 102 वर्ष की है। वह आज भी अपने काम स्वयं कर लेती है। मतदान को लेकर वह बड़ी उत्साहित थी। उसने बताया कि वह प्रत्येक निर्वाचन में लगातार मतदान कर अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करती आ रही है। जिला प्रशासन द्वारा केसरबाई का पुष्पहार से स्वागत एवं सम्मान कर मतदान के लिए व्हील चैयर पर ले जाया गया और मतदान कराया। केसरबाई का मतदान केन्द्र क्रमांक 194 में नाम है। केसरबाई के 6 पुत्र एवं 01 पुत्री है। केसरबाई के नाती-पोती भी व्यस्क होकर इनके नाम मतदाता सूची में शामिल हैं। इस प्रकार केसरबाई के परिवार में 35 से अधिक मतदाता हैं। इसी तरह नीछमा की गंजीबाई-छीता जी आयु 100 वर्ष, नीछमा की ही भंवर बाई-मानसिंह आयु 100 वर्ष, मेहंदी की कमला बाई-रूग्गा जी उम्र 106 वर्ष, पनवाड़ी की बीसिया बाई-छोटे खां उम्र 102 वर्ष, झोंकर की भगवंती बाई-जगन्नाथ उम्र 107 वर्ष, उकावता की फातिमा बी-रूस्तम खां उम्र 104 वर्ष, उकावता की ही तोईसा बी-वजीर खां उम्र 104 वर्ष ने भी मतदान कर लोकतंत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन किया।
जिले के 82 प्रतिशत शतायु मतदाताओं ने लोकतंत्र के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन किया
विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिए 28 नवम्बर को हुए मतदान में जिले के 82 प्रतिशत शतायु मतदाताओं ने लोकतंत्र के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन किया। जिले में 100 वर्ष से अधिक उम्र के कुल 64 मतदाता हैं, जिसमें से 53 शतायु मतदाताओं ने मतदान में हिस्सा लिया। जिले के विधानसभा क्षेत्र 167-शाजापुर में कुल 17 शतायु मतदाता हैं, जिनमें से 12 मतदाताओं ने मतदान किया। इसी तरह विधानसभा क्षेत्र 168-शुजालपुर में कुल 17 शतायु मतदाता हैं, जिनमें से 14 मतदाताओं ने मतदान किया एवं विधानसभा क्षेत्र 169-कालापीपल में कुल 30 शतायु मतदाता हैं, जिनमें से 27 मतदाताओं ने मतदान किया।
शतायु मतदाताओं का किया सम्मान
जिला प्रशासन द्वारा शतायु मतदाताओं को मतदान के लिए ले जाने से पूर्व ंउनका घर पर ही पुष्प माला से सम्मान किया गया। इन मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक ले जाने एवं लाने के लिए वाहन सुविधा प्रदान की गई। साथ ही इन मतदाताओ को बिना लाईन के मतदान की सुविधा भी दी गई। इन मतदाताओं के वाहन 100 मीटर के दायरे में ले जाने हेतु पास भी जारी किए गए थे। साथ ही मतदान के एक दिवस पूर्व सभी शतायु मतदाताओं से संपर्क कर उन्हें दी जाने वाली सुविधाओं से अवगत कराया गया था। जिला प्रशासन द्वारा दी जाने वाली सुविधा से शतायु मतदाताओं में मतदान के प्रति उत्साह बढ़ा। आम तौर पर अशक्तता एवं कमजोरी होने के कारण शतायु मतदाताओं को मतदान के प्रति कम रूचि होती है। जिला प्रशासन द्वारा मतदान के लिए सुविधा प्रदान करने के कारण शतायु मतदाताओ में मतदान के प्रति रूचि जागृत हुई। जिला प्रशासन द्वारा अशक्त एवं कमजोर मतदाताओं के लिए मतदान केंद्रों पर व्हील चेयर, स्टीक और वैसाखी भी रखी गई थी।
ईएमएस/ चन्द्रबली सिंह / 06 दिसम्बर 2018