अंतरराष्ट्रीय

जल्द हो सकती हैं पूर्व पीएम इमरान और शहबाज शरीफ की मुलाकात

04/05/2022

इस्लामाबाद (ईएमएस)। बहुमत खोने के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री ने जिस तरह से एक पखवाड़े तक पद पर बने रहने के लिए संवैधानिक मर्यादाओं को तार-तार कर विपक्ष पर तीखे वार किए, उससे वर्तमान प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के साथ उनके रिश्ते लगभग खत्म हो गए, लेकिन उनकी पार्टी के सहयोगी और पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री शेख राशिद अहमद ने दावा किया है कि वे दोनों नेताओं को जल्द मिलवाएंगे। शेख राशिद ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इमरान जल्द चुनाव कराने के बारे में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के साथ चर्चा करने के लिए तैयार हैं। अवामी नेशनल लीग-पाकिस्तान के प्रमुख राशिद अहमद ने कहा कि उन्होंने सत्ताधारी पार्टी और विपक्षी पार्टियों के बीच गलतफहमी को दूर करने के लिए प्रयास शुरू किए हैं। अवामी नेशनल लीग-पाकिस्तान, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की एक प्रमुख गठबंधन सहयोगी है।
एक लेख में अहमद के हवाले से कहा गया है, मैंने उनके (पीटीआई और सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के) बीच गलतफहमी को दूर करने के लिए प्रयास शुरू किए है। उन्होंने कहा, मैं शांति के लिए सेना के साथ हूं, लेकिन ‘युद्ध’ की स्थिति में मैं इमरान खान के साथ खड़ा रहूंगा। उन्होंने कहा कि खान जल्द आम चुनाव कराने के बारे में शरीफ सरकार के साथ बातचीत करने के लिए तैयार हैं।
शेख राशिद भले ही दावा करे कि दोनों नेताओं को मिलाएंगे लेकिन यह इतना आसान नहीं है। शहबाज विश्वास मत के दौरान इमरान द्वारा अपनाए गए तिकड़म को नहीं भूले हैं। एक दिन पहले ही इमरान सहित पीटीआई के कई अन्य नेताओं पर पाकिस्तान में एफआईआर दर्ज किए गए हैं। शहबाज शरीफ जब सऊदी अरब के मदीना गए थे तब कुछ लोगों ने उन्हें चोर-चोर और गद्दार कहकर नारेबाजी की। इस घटना में सऊदी पुलिस ने पांच पाकिस्तानी को गिरफ्तार किया है। पाकिस्तानी सरकार का कहना है कि घटना में इमरान खान का हाथ है। इसकारण पाकिस्तान की पंजाब पुलिस ने खान और उनकी पार्टी के करीब 150 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।
आशीष दुबे / 04 मई 2022