राष्ट्रीय

दिवाली बाजार में मिलेंगे हरित पटाखे

06/10/2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। केंद्र सरकार ने दिल्ली में वायु प्रदूषण पर नियंत्रण रखने के लिए इस बार दिवाली पर बाजार में ग्रीन (हरित) पटाखे उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी व स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने हरित पटाखे जारी किए। डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2017 में पटाखों पर रोक लगाईथी। इसके बाद वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) ने हरित पटाखों को बनाने की तरकीब निकाली है। पटाखा उत्पादकों ने अनार, पेंसिल, चकरी, फुलझड़ी, सुतली बम आदि बनाए हैं। उन्होंने कहा कि ये पटाखे प्रदूषण कम फैलाते हैं और पर्यावरण को नुकसान कम पहुंचता है। इस मौके पर सीएसआईआर के महानिदेशक डॉ.शेखर सी मांदे ने कहा कि हरित पटाखे तैयार करना काफी चुनौतीपूर्ण था। हरित पटाखों में 30 से लेकर 90 फीसदी तक बेरियम नाइट्रेट का इस्तेमाल कम किया गया है। कई पटाखों में इसका बिल्कुल प्रयोग नहीं किया गया है। इन पटाखों में ऑक्सीडेंट के तौर पर पोटैशियम नाइट्रेट का इस्तेमाल किया गया है। हरित पटाखों की जांच इसमें लगे लोगो और क्यूआर कोड से हो सकेगी।
संदीप/देवेंद्र/ईएमएस/06/अक्टूबर/२०१९/