अंतरराष्ट्रीय

करतारपुर कॉरिडोर- सिख श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए तैयार, इमरान ने साझा की तस्वीरें

03/11/2019

इस्लामाबाद (ईएमएस)। पाकिस्तान स्थित सिखों के पवित्र तीर्थस्थल करतारपुर कॉरिडोर श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ पूरी तरह तैयार हो गया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को करतारपुर परिसर और गुरुद्वारा दरबार साहिब की कुछ शानदार तस्वीरें साझा कीं और कहा कि आस्था का यह केन्द्र गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर सिख श्रद्धालुओं का स्वागत करने के लिए तैयार है। करतारपुर गलियारे का उद्घाटन नौ नवंबर को होना है ऐसे में खान ने ट्विटर पर तस्वीरें साझा करके पवित्र स्थान की एक झलक दी है। इमरान खान ने ट्वीट किया कि सिख श्रद्धालुओं का स्वागत करने के लिए तैयार है करतारपुर। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने निर्माणकार्य वक्त पर पूरा करने के लिए अपनी सरकार को बधाई दी। उन्होंने लिखा कि गुरु नानक जी के 550वीं जयंती पर्व के लिए करतारपुर को रिकॉर्ड समय में तैयार करने के लिए मैं अपनी सरकार को बधाई देना चाहता हूं।
ऐसा माना जा रहा है कि ऐसा करके खान धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इससे पहले उन्होंने यहां आने के इच्छुक सिख श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट की शर्त को समाप्त कर दिया था। इसके साथ ही करतारपुर गलियारे के उद्घाटन और गुरुनानक देव की 550वीं जयंती के दिन पाकिस्तान द्वारा लिया जाने वाला 20 अमेरिकी डालर (करीब 1400 रुपये) का शुल्क भी नहीं लिया जाएगा। करतारपुर गलियारे का उद्घाटन ऐसे वक्त में हो रहा है जब राजधानी इस्लामाबाद में हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी मौजूद हैं और उनके नेता मौलाना फजलुर रहमान खान के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। गौरतलब है कि सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव ने पाकिस्तान के करतारपुर में रावी नदी के किनारे स्थित दरबार साहिब गुरुद्वारे में अपने जीवन के अंतिम 18 वर्ष बिताए थे। यह गलियारा पंजाब के गुरदासपुर में स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को करतारपुर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब से जोड़ता है।
विपिन/ ईएमएस/ 03 नवम्बर 2019