राष्ट्रीय

हम किसी को परेशान नहीं करना चाहते, सपा-बसपा का जो मकसद, वही हमारा है : प्रियंका गांधी

19/03/2019

प्रयागराज (ईएमएस)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मायावती के य़ूपी की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस आजाद है वाले बयान पर जवाब देके हुए कहा कि हम लोगों का एक ही मकसद है भाजपा को हराना। प्रियंका गांधी ने कहा, 'हम किसी को परेशान नहीं करना चाहते, हमें किसी के साथ कोई दिक्कत नहीं है। हमारा मकसद भाजपा को हराना है, यही मकसद उन लोगों का है। बता दें, रविवार को कांग्रेस ने ऐलान किया था कि वह लोकसभा चुनाव में सात सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारेगी। ये वो सीटें हैं, जहां से बसपा और सपा पार्टी के बड़े नेता चुनाव लड़ रहे हैं।
जनवरी महीने में मायावती और अखिलेश यादव ने कांग्रेस को बाहर रखते हुए अपने गठबंधन का ऐलान किया था। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी और सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली पर अपने उम्मीदवार न उतारने का ऐलान किया था। बदले में कांग्रेस ने सात सीटों पर अपने उम्मीदवार न उतारने की घोषणा कर दी। कांग्रेस के इस कदम से यह संकेत गया था कि कांग्रेस अभी भी सपा-बसपा के साथ है।
प्रियंका गांधी के बयान से पहले, मायावती ने कहा कि उनका कांग्रेस के साथ न केवल यूपी बल्कि पूरे देश में न किसी भी प्रकार का तालमेल और न कोई गठबंधन है। मायावती ने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा था, कांग्रेस यूपी में भी पूरी तरह से स्वतंत्र है कि वह यहां की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा करके अकेले चुनाव लड़े अर्थात हमारा यहां बना गठबंधन अकेले भाजपा को पराजित करने में पूरी तरह से सक्षम है। कांग्रेस जबर्दस्ती यूपी में गठबंधन हेतु 7 सीटें छोड़ने की भ्रांति ना फैलाये।
मायावती के बाद अखिलेश यादव ने उनकी बात से सहमति जताई और ट्वीट किया, 'उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा और आरलेडी का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है। कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ्यूजन न पैदा करे!' यूपी कांग्रेस प्रमुख राज बब्बर ने रविवार को ऐलान करते हुए कहा था, कांग्रेस मुलायम सिंह की सीट मैनपुरी, डिंपल यादव की सीट कन्नौज से अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। साथ ही कहा था कि वे मायावाती, अजीत सिंह और जयंत चौधरी की सीट से भी चुनाव नहीं लड़ेंगे। इसके अलावा पीलीभीत और गोंडा सीट अपना दल को देने का फैसला किया गया है।
विपिन/ ईएमएस/ 19 मार्च 2019