राज्य समाचार

वैक्सीन लग गई तो बाजार भी खुले रहेंगे और मेहनत-मजदूरी भी चलती रहेगी : मुख्यमंत्री श्री चौहान

21/06/2021

भोपाल (ईएमएस)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अब हमें न अपनों को अपनों से बिछड़ने देना है, न काम-धंधा बिगड़ने देना है। कोरोना से बचने का सबसे प्रभावी तरीका वैक्सीन लगवाना है। यदि वैक्सीन लग गई तो बाजार भी खुले रहेंगे और मेहनत-मजदूरी भी चलती रहेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दुनिया भर के लोग और वैज्ञानिक कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जता रहे हैं और इस लहर को रोकने के लिए ही टीकाकरण का अभियान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर शुरू किया गया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज टीकाकरण अभियान के प्रेरक के रूप में भोपाल के अन्ना नगर क्षेत्र के लोगों से संवाद कर रहे थे। दुनिया के सबसे बड़े मुफ्त टीकाकरण अभियान के अंतर्गत प्रदेश में एक साथ 7 हजार केन्द्रों पर एक दिन में 10 लाख से अधिक टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अभियान में अन्नानगर क्षेत्र की जनता से सम्पर्क किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण तथा दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग और सांसद विष्णु दत्त शर्मा भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने टीकाकरण अभियान को सफल बनाने का संकल्प भी दिलाया।
प्रधानमंत्री श्री मोदी का आभार
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की दूसरी लहर की दिल दहला देने वाली पीड़ा को साझा करते हुए कहा कि हमें वैक्सीन ही कोरोना की तीसरी लहर से बचा सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार की चिंता अपने नागरिकों का जीवन सुधारने और लॉकडाउन जैसे बुरे वक्त को रोकने की है। इसलिए 18 वर्ष के ऊपर के सभी नागरिक प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा उपलब्ध करवाई गई वैक्सीन हर हालत में लगवाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सबको मुफ्त वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार माना।
रांगोली और हाथ से लिखे बैनरों से बना टीकाकरण का वातावरण
मुख्यमंत्री श्री चौहान के अन्नानगर पहुँचने पर स्थानीय निवासी सुश्री आयशा ने पुष्प भेंट कर मुख्यमंत्री श्री चौहान का स्वागत किया। अन्नानगर निवासियों द्वारा मुख्यमंत्री श्री चौहान के स्वागत में सड़क पर जगह-जगह रांगोली बनाई हुई थी। रांगोली में स्वागत के भाव के साथ कोरोना से बचाव और टीकाकरण के संदेश भी अभिव्यक्त हो रहे थे। 'ओ कोरोना कभी मत आना', 'जो परिवार से करे प्यार, वो वैक्सीन से कैसे इंकार' की रंगोली और हाथ से लिखे छोटे बैनरों से बस्ती में अभियान का वातावरण बना हुआ था।
वैक्सीन कोरोना का हेलमेट है- जरूर लगवा लेना
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अन्नानगर बस्ती की अश्विनी यादव, प्रियंका सिंह, राहुल सहित कई युवाओं और वृद्धजन से व्यक्तिगत रूप से भेंट की और दुकानों व घरों में जाकर जन-सामान्य से बात कर टीकाकरण के लिए प्रेरित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चर्चा में कहा कि 'वैक्सीन कोरोना का हेलमेट है- जरूर लगवा लेना'। बस्ती के जिन लोगों ने कहा कि हमने टीका लगवा लिया है, उन्हें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने धन्यवाद दिया।
वैक्सीन से न घबरायें और न अफवाहों पर ध्यान दें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जनसंवाद के इस कार्यक्रम में मंच पर खड़े रहकर ही लोगों से बातचीत की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हम कोरोना के भयावह दिन लौटने नहीं देंगे। प्रदेश में फिर से दुकानें, काम-धंधा, मेहनत-मजदूरी बंद नहीं होगी। कोरोना की तीसरी लहर की पूरी दुनिया में आशंका है। इसका कहीं-कहीं प्रभावी भी दिख रहा है। टीकाकरण जीवन का सुरक्षा चक्र है। यह जिन्दगी का डोज़ है। हमारी कोशिश होगी कि अगले कुछ दिनों में ही प्रदेश की अधिकतम जनसंख्या को वैक्सीन लग जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यह समझाइश भी दी कि टीकाकरण के बाद कुछ लोगों को हाथ-पैर दर्द जैसे हल्के लक्षण रहते हैं। इससे घबराने, भ्रमित होने, अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। यह टीका पूर्णता सुरक्षित, असरकारी और हानिरहित है।
टेस्टिंग के लिए लोग स्वयं आगे आएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना से बचाव के सभी उपायों जैसे मास्क लगाना, दूरी बनाए रखना, हाथ बार-बार धोने का पूरी गंभीरता से पालन किया जाएगा। प्रदेश में टेस्टिंग को बढ़ाया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील की कि टेस्टिंग के लिए लोग स्वयं आगे आएँ इससे बचे नहीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में व्यापक स्तर पर किल कोरोना अभियान जारी रहेगा।
तीसरी लहर के लिए अस्पतालों में तैयारियाँ जारी
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए अस्पतालों में भी व्यापक स्तर पर तैयारियाँ कर रही है। आई.सी.यू. बेड, ऑक्सीजन बेड, बच्चों के आई.सी.यू. वार्ड, ऑक्सीजन की उपलब्धता, दवाइयों और उपकरणों की आपूर्ति के साथ-साथ पैरामेडिकल स्टाफ के प्रशिक्षण के लिए आवश्यक गतिविधियाँ पूरे प्रदेश में जारी हैं।
टीका लगवाने और लोगों को प्रेरित करने के लिए दिलाया संकल्प
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टीकाकरण का यह अभियान जान बचाने और जहान बचाने का अभियान है। प्रदेश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन होने पर कॉलेज, कोचिंग क्लास, सिनेमा घर आदि खोलने के संबंध में भी विचार किया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अन्नानगर के लोगों को कोविड-19 टीकाकरण अभियान को सफल बनाने का संकल्प भी दिलाया। लोगों ने स्वयं टीका लगवाने और लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया।
धर्मेन्द्र, 21 जून, 2021