ट्रेंडिंग

देश में दो विचारधाराएं- एक नफरत की है और दूसरी प्यार बांटने की : राहुल गांधी

22/10/2018

हैदराबाद (ईएमएस)। राहुल गांधी ने यहां चारमिनार पर ‘राजीव गांधी सद्भावना यात्रा स्मृति दिवस’ के मौके पर मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि देश में फिलहाल दो विचारधाराएं हैं। एक विचारधारा नफरत की है और दूसरी प्यार बांटने की है। इन दोनों के बीच मुकाबला हो रहा है। भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को आरोप लगाया कि हमले होने के डर से देश में महिलाएं अब बाहर निकलने से डरती हैं। गांधी ने आरोप लगाया कि भाजपा जिसे देशभक्ति के प्रतीक के तौर पर पूजती है उन स्वतंत्रता सेनानी ने ऐसे वक्त ब्रिटिश सरकार को खत लिखकर खुद को रिहा करने का अनुरोध किया था जब महात्मा गांधी सरीखे नेता जेल में थे। जब भी आप उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु, जहां कहीं भी देखें समूचे देश में लोग डरे हुए हैं। आज लोगों के धर्म, स्थान और भाषा को लेकर पूछताछ की जाती है। फिर चाहे रोहित वैमुला या दलित हो या आदिवासी अथवा मुस्लिम, उन्हें धमकी दी जा रही है क्योंकि भारत में अब कुछ कमजोरी है।
महिलाओं को लेकर गांधी ने कहा, महिलाएं आज भारत में बाहर निकलने को लेकर बेहद डरी हुई हैं। वे नहीं जानतीं कि उनके साथ क्या होगा। इसकी वजह है। भारत में पहली बार आज प्रधानमंत्री देश को बांटने, नफरत फैलाने की कोशिश कर रहा है। इसी तरह उनके समर्थक भी नफरत फैलाते हैं। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘एमआईएम (अखिल भारतीय मजलिस-ए-इत्तेहाल-उल मुस्लमीन) क्यों प्रधानमंत्री का समर्थन कर रही है जब वह देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। एक के बाद एक राज्य में एमआईएम प्रधानमंत्री का समर्थन कर रही है। क्योंकि वे (भाजपा और एमआईएम) समान आधार पर सोचते हैं। हम उन दोनों से लड़ते हैं।