अंतरराष्ट्रीय

भारतीय मूल के लोगों का अमेरिका के आर्थिक और सांस्कृतिक विकास में अहम योगदान : बाइडेन

24/09/2020

वाशिंगटन (ईएमएस)। अमेरिका में नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने कहा कि अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों ने अपनी कड़ी मेहनत और उद्यमिता के दम पर अमेरिका के आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। बाइडेन ने कहा कि इस समुदाय के प्रयासों ने अमेरिका मे्ं सांस्कृतिक गतिशीलता लाने में भी मदद की है। चुनाव प्रचार के लिए निधि एकत्र करने के मकसद से आयोजित एक डिजिटल कार्यक्रम में बाइडेन ने भारतीय अमेरिकी सदस्यों और चंदा देने वाले लोगों को आश्वासन दिया कि वे एच-1बी वीजा और वैध आव्रजन संबंधी उनकी चिंताओं को दूर करेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन भारतीय अमेरिकी समुदाय के लोगों ने किया था। उन्होंने कहा सोचिए, इस समुदाय ने देश के लिए क्या किया है? इसके उद्यमी देशभर और दुनिया में कारोबार चला रहे हैं। ये उद्यमी और नवोन्मेषक सिलिकन वैली का आधार हैं और दुनिया में कुछ सबसे प्रभावशाली कंपनियों का नेतृत्व करते हैं।
बाइडेन ने कहा आपने इस देश में आर्थिक एवं सांस्कृतिक गतिशीलता लाने में मदद की। उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर निशाना साधते हुए कहा कि एच-1बी वीजा, नस्ली अन्याय या जलवायु संकट को लेकर नुकसानदेह कदम सभी के लिए खतरा हैं। उन्होंने कहा यह राष्ट्रपति चीजों को बेहतर नहीं बना रहे, बल्कि खराब कर रहे हैं। बाइडेन ने कहा कि अभिभावक यह सोचने लगे हैं कि क्या यहां उनके बच्चों को वह भविष्य मिल पाएगा, जिसका उन्होंने सपना देखा था।
उन्होंने कहा राष्ट्रपति के तौर पर, मैं वादा करता हूं कि मैं चीजों को खराब नहीं, सर्वश्रेष्ठ बनाऊंगा, इस वैश्विक महामारी को मात दूंगा और अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लेकर आऊंगा, हमारे बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाने में मदद करूंगा और यह सुनिश्चित करूंगा कि स्वास्थ्यसेवा कोई विशेषाधिकार नहीं, बल्कि अधिकार है। मैं एक ऐसी आव्रजन प्रणाली बनाऊंगा जो हमारी अर्थव्यवस्था को मजबूत करे और हमारे मूल्यों को प्रतिबिम्बित करे। बाइडेन ने भारतीय-अमेरिकियों के सांस्कृतिक, सामाजिक एवं पारिवारिक मूल्यों की सराहना करते हुए कहा कि वह इसी कारण इस समुदाय को इतना अधिक महत्व देते हैं।
अनिरुद्ध/ईएमएस 24 सितम्बर 2020