क्षेत्रीय

बच्चों ने ग्रहण की संस्कार दीक्षा

14/04/2019

सिरोंज (ईएमएस)। रविवार को अनेकांत ज्ञान शोध संस्थान बीना के तत्वाधान में आयोजित जित साम्यग्ज्ञान शिक्षण संस्कार दीक्षा का कार्यक्रम ब्र.संदीप सरल के सानिध्य में संपन्न हुआ। कार्यक्रम का शुभांरभ प्रात: सात बजे मंगलाष्टक स्तोत्र के सामूहिक पाठ से हुआ, पश्चात श्री जी का अभिषेक एवं शांतिधारा सैकड़ो दीक्षाथियों ने की । ब्र. संदीप सरल ने धर्मसभा को संबोधित करते हुऐ कहाकि जिस प्रकार एक पाषण संस्कारित होकर परमात्मा बन जाता है व पूज्यता को प्राप्त हो जाता है उसी प्रकार एक सामान्य मानव प्राणी भी संस्कारों से दीक्षित होकर समाज में सम्मानीय, आदरणीय बन जाता है। पुरूषों का सार सूत्र होता है उसी प्रकार मानव जीवन का सार चरित्र होता है । चरित्र से ही व्यक्ति मानव से महामानव बन जाता है। आपने संस्कार दीक्षा के अंतर्गंत नशा त्याग, तम्बाखू से बने प्रोडक्ट त्याग, आत्महत्या व भूण हत्या करने का त्याग करवाया । देश व राष्ट्र की सुरक्षा करने का संकल्प दिलाया। दीक्षार्थियों 8 वर्ष से 25 वर्ष तक ने अपने आवेदन पत्र जमा किये व अपने अपने विचार भी रखें। समाज के वरिष्ठ व गणमान्य लोगों द्वारा दीक्षार्थियों का सम्मान भी किया गया। उसके बाद संस्कार रैली छोटे मंदिर से प्रांरभ होकर मुख्य मार्गो से होती हुयी दिगम्बर जैन पाश्वनार्थ बड़ा मंदिर पहुची जहॉपर सभी दीक्षार्थियों ने दर्शना वंदना की उसके बाद वापस रैली छोटे मंदिर आकर धर्मसभा में आकर बदल गयीं। शिविर संयोजक विकास जैन ने बताया कि कल प्रात: साढ़े पॉच बजे से साढ़े 6 बजे तक योगा कक्षा में सैकड़ो लोग भाग लेगें। जिनागम प्रवेश प्रात: साढ़े आठ बजे से साढ़े नौबजे मध्यांह साढ़े तीन बजे से साढ़े चार बजे रत्नकरण्डक श्रावकाचारख् सांयकाल साढ़े 6 बजे से साढ़े 7 बजे तक संस्कार शाला व रात्रि में आठ बजे से नौ बजे तक आध्यात्मिक ग्रंथ इष्टोपदेश पर मंगल प्रवचन हो रहे है। इसशिविर में अनुराज जैन, हैप्पी जैन, अनीका जैन, अंजली जैन, रिमी जैन, चंद्रेश व शुभी दीदी कक्षाऐं ले रहें है।
प्रवीण/14/04/2019