राष्ट्रीय

यूपी चुनाव में अखिलेश ने फिर उछाला पिछड़ा कार्ड

14/01/2022

गोरखपुर (ईएमएस)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार बनने के तीन महीने के अंदर जातीय जनगणना शुरू हो जाएगी। इस गणना के आधार पर सभी समाजों की समानुपातिक भागीदारी तय हो सकेगी। समाजवादी सरकार में पुरानी पेंशन जारी की जाएगी। समय से नौकरी में पदोन्नति के साथ छात्रवृत्ति और सबके साथ समान व्यवहार की व्यवस्था रहेगी। अखिलेश यादव ने गुरुवार को अपनी पार्टी की नवगठित बाबा साहब अम्बेडकर वाहिनी की बैठक में यह बात कही। अखिलेश यादव ने कहा कि उन्होंने कहा कि अब सभी बिना देर किए विधानसभा चुनाव में घर-घर गांव-गांव दस्तक देकर भाजपा की कुनीतियों और अपनी सरकार की उपलब्धियों से लोगों को अवगत कराएं। जनता ने अपना विकल्प तलाश लिया है। डॉ. लोहिया और डॉ. अम्बेडकर के विचारों का समता मूलक समाज बनाने का सपना पूरा करना है। सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा राज में शोषितों-वंचितों को सताया-अपमानित किया जा रहा है। युवाओं को नौकरी से दूर रखने और आरक्षण समाप्त किए जाने की साजिशें हो रही है। समाजावादी पार्टी ने गुरुवार को 5 जिलाध्यक्ष घोषित कर दिए। अवधेश यादव को गोरखपुर का जिलाध्यक्ष तथा केके त्रिपाठी महानगर अध्यक्ष बनाया गया है। देवेंद्र जाखड़ हापुड़ सपा जिलाध्यक्ष बनाए गए हैं जबकि ,कैलाश यादव ललितपुर सपा जिलाध्यक्ष बने हैं। दूधनाथ सिंह को मऊ का सपा जिलाध्यक्ष बनाया गया है। इसके अलावा समाजवादी पार्टी ने मधुप सिंह यादव को लखनऊ महानगर का उपाध्यक्ष नियुक्त किया है।
अजीत झा/देवेंद्र/ईएमएस/नई दिल्ली/14/जनवरी/2022