क्षेत्रीय

अल्लाह से मांगी हजारों हाथों ने अमन-चैन की दुआ

12/08/2019

अलीगढ़ (ईएमएस)। ईद-उल-अजहा बकरीद का पवित्र पर्व शांतिपूर्ण और धूमधाम से सम्पन्न हो गया। महानगर की शाहजमाल ईदगाह समेत अनेक मस्जिदों में ईद-उल-अजहा की नमाज सौहार्द पूर्ण माहौल में अदा की और मुल्क की सलामती की दुआ मांगी गई।इस मौके पर पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ नगर निगम द्वारा व्यापक स्तर पर सफाई व्यवस्था की गई।शाहजमाल ईदगाह पर प्रशासनिक,राजनैतिक दलों व सामाजिक संस्थाओं के कैम्प लगाये गये। जिलाधिकारी,नगर आयुक्त,एसएसपी,एडीएम सिटी, एसपी सिटी,मेयर,पूर्व विधायक जफर आलम,विवेक बंसल,सपा के जिलाध्यक्ष अशोक यादव आदि ने मुस्लिम भाइयों को गले मिलकर ईद की मुवारक बाद पेश की।जिलाधिकारी चन्द्रभूषण सिंह ने कहा कि ईद उल अजहा और श्रावण मास के अन्तिम सोमवार एक साथ होने पर महानगर में सुरक्षा के कड़े इन्तजाम के साथ साथ सफाई व्यवस्था भी बेहतर रही।उन्होंने ईद की मुबारक वाद देते हुए कहा कि ईद उल अजहा, ईद उल फितर और जुमा ए अलविदा की नमाज सड़क पर पढ़ना पारम्परिक चला आ रहा है लेकिन सामान्य रूप में सड़क पर नमाज अदा करने पर प्रतिबंध लागू रहेगा।
बकरीद के मौके पर पूरे देश भर में खुशियों की धूम है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भी लोगों ने खुशहाल और शांतिपूर्ण तरीके से बकरीद का पर्व मनाया। अलीगढ़ शाहजमाल ईदगाह में लोगों ने बेहद शांतिपूर्ण ढंग से ईद-उल-अजहा की नमाज अदा की।
इस दौरान हजारों मुस्लिम भाईयों ने हाथ उठाकर अलीगढ़ सहित देश दुनिया में अमन शांति की दुआ मांगी। उन्होंने बताया कि बकरीद का यह पर्व दूसरों के लिए कुर्बानी और आपसी भाईचारे का संदेश देता है। नमाज अदा करने आए लोगों ने कहा कि आज देश का मुसलमान देश की आन बान शान के लिए कुर्बानी देने को तैयार है।
नमाज पढ़ने के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए थे। नगर-निगम की तरफ से साफ-सफाई को लेकर भी तमाम तैयारियां की गई थीं। पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों और राजनीतिक दलों के सदस्यों ने भी ईदगाह पहुंच कर मुस्लिम भाईयों को बकरीद की मुबारकबाद दी।
शाहजमाल ईदगाह के हाजी जमीरउल्लाह ने कहा कि आज ईदुल अजहा और श्रावण मास का अंतिम सोमवार एक साथ है। उन्होंने सभी को दोनों ही पर्व की बधाई दी। अलीगढ़ जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने कहा कि ईद-उल-अजहा, ईद-उल-फितर और जुमा-ए-अलविदा पर नमाज सड़क पर पढ़ना पारंपरिक चला आ रहा है, लेकिन सामान्य रूप से सड़क पर नमाज अदा करने पर प्रतिबंध लागू रहेगा।
धर्मेन्द्र राघव/12/08/2019