अंतरराष्ट्रीय

दोनवास में यूक्रेन-रूस की सेनाओं के बीच भीषण जंग जारी

01/05/2022

-जेलेंस्‍की का दावा रूस के 1000 टैंक तबाह किए, पुतिन ने भी की चौतरफा घेराबंदी
कीव (ईएमएस)। यूक्रेन-रूस युद्ध को दो महीने से अधिक हो गया है। आज 67वां दिन है और दोनों ही सेनाओं के बीच दोनबास इलाके में भीषण लड़ाई जारी है। इस बीच यूक्रेन के राष्‍ट्रपति जेलेंस्‍की ने दावा किया है कि इस जंग में अब तक 1000 रूसी टैंकों को तबाह किया जा चुका है। इसके अलावा रूसी सेना के करीब 200 विमान और लगभग 2500 हथियारबंद वाहन भी यूक्रेनी सेना ने बर्बाद कर दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि इस भारी नुकसान के बाद भी रूसी सेना के पास इतने हथियार हैं कि वह अतिरिक्‍त हमले कर सकती है। जेलेंस्‍की ने कहा, 'निश्चित रूप से हमलावरों के पास अभी भी भंडार में हथियार मौजूद हैं। हां, उनके पास अभी भी हमारे इलाके में हमला करने के लिए मिसाइल है। लेकिन इस युद्ध ने रूस को बहुत हद तक कमजोर कर दिया है। उन्‍हें अब मास्‍को में परेड के लिए कम हथियारों के साथ काम चलाना होगा।' रूसी सेना 9 मई को विक्‍ट्री डे परेड मनाने जा रही है। इस परेड को जर्मन सेना के द्वितीय विश्‍वयुद्ध में सोवियत संघ के समक्ष सरेंडर की याद में मनाया जाता है। यूक्रेन के राष्‍ट्रपति ने यह भी दावा किया कि रूस ने हमले के बाद से 23000 सैनिकों को अब तक खो दिया है। हालांकि उनके इस दावे की अभी स्‍वतंत्र पुष्टि नहीं हो सकी है। रूस ने जंग में मौतों का आंकड़ा बहुत कम दिखाया है जिसे विश्‍लेषक बहुत कम मान रहे हैं। नाटो के सैन्‍य अधिकारियों का मानना है कि इस जंग में रूस के 7 हजार से लेकर 15 हजार सैनिक मारे गए हैं। अमेरिकी अधिकारियों का भी मानना है कि लगभगर इतने ही रूसी सैनिक मारे गए हैं।
इस बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन पर ‘कुछ ही दिनों के भीतर’ एक ‘चौतरफा युद्ध’ की घोषणा करने के लिए तैयार हैं, ताकि मास्को आबादी की एक सामान्य लामबंदी शुरू कर सके। रूसी स्रोतों और पश्चिमी अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। द डेली मेल ने बताया कि रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन पर आक्रमण किया, जिसे पुतिन ने ‘विसैन्यीकरण और डी-नाजि़फाई’ करने के लिए ‘विशेष सैन्य अभियान’ कहा और ‘युद्ध’ शब्द के इस्तेमाल पर रोक लगा दी, यह सोचकर कि यह कुछ हफ्तों में खत्म हो जाएगा। हालांकि, सेना प्रमुखों ने निराश किया कि आक्रमण अब तीसरे सप्ताह में फैल गया है, उन्होंने राष्ट्रपति से युद्ध की घोषणा करने का आह्वान किया है जो रूसी सैनिकों की एक सामूहिक लामबंदी और संघर्ष में वृद्धि को सक्षम करेगा। ब्रिटेन के रक्षा सचिव बेन वालेस ने कहा कि पुतिन 9 मई को रूस की विजय दिवस परेड का इस्तेमाल यूक्रेन में अंतिम रूप से अपने भंडार को बढ़ाने की घोषणा करने के लिए कर सकते हैं। यह तब आता है जब नाटो के पूर्व प्रमुख रिचर्ड शेरिफ ने यूक्रेन में रूस के साथ ‘सबसे खराब स्थिति’ युद्ध के लिए पश्चिम को ‘खुद को तैयार’ करने की चेतावनी दी थी। एक रूसी सैन्य सूत्र ने टेलीग्राफ को बताया, ‘सेना नाराज है कि कीव पर हमला विफल हो गया है। सेना में लोग अतीत की विफलताओं के लिए भुगतान की मांग कर रहे हैं और वे यूक्रेन में आगे जाना चाहते हैं।’ इस सप्ताह की शुरुआत में, रूसी सेना को इस बात से नाराज बताया गया था कि पुतिन ने यूक्रेन के आक्रमण को कम कर दिया था और संघर्ष को नए सिरे से बढ़ाने का आह्वान किया है।
विपिन/ ईएमएस/ 01 मई 2022