ज़रा हटके

अब मिल सकता है किडनी डोनर की समस्या से छुटकारा

15/05/2019

टोक्यो (ईएमएस)। जापान में शोधकर्ताओं के दल द्वारा कुछ डोनर स्टेम सेल्स (मूल कोशिकाओं) से चूहों में किडनी का विकास किया गया है। इसके बाद उम्मीद है कि इस तरह गुर्दे का विकास भी किया जा सकता है, जिससे दुनिया में गुर्दे दाताओं की कमी की समस्या से छुटकारा मिल सकेगा। शोध के नतीजों के अनुसार विकसित हुई किडनी काम करते हुए प्रतीत हुई है। बशर्ते इसका प्रमाण मिले कि इसका मानव गुर्दे को विकसित करने के लिए भी किया जा सकता है। गुर्दा रोग से पीड़ित जो मरीज अंतिम अवस्था में है, उनके लिए गुर्दा प्रत्यारोपण ही एकमात्र उम्मीद है, जिससे वह अपनी बाकी की जिंदगी जी सकते हैं। परंतु दुनिया में गुर्दा दानकर्ताओं की कमी की वजह से यह मरीज गुर्दा प्रत्यारोपण नहीं करवा पाते। इसी के चलते शोधकर्ता मानव शरीर के बाहर स्वस्थ अंग विकसित करने की विधि पर काम कर रहे हैं। इसी विधि के अंतर्गत चूहे का अग्नाशय तैयार करने में उनको आशावादी परिणाम मिले हैं। जापान की नेशनल इंस्टिट्यूट फॉर फिजियोलॉजिकल साइंसेज के शोधकर्ताओं ने इस बात की जांच करने का निर्णय लिया है कि क्या इस विधि से मानव गुर्दा तैयार किया जा सकता है। विश्वविद्यालय के मासूमी हिराबायाशी ने बताया कि हमारे नतीजों से इस बात की पुष्टि होती है कि गुर्दा बनाने में इंटरस्पेशिफिक ब्लास्टोसिस्ट कंप्लीमेंटेशन एक व्यवहारिक विधि है।
हर्षिता/ईएमएस 15 मई 2019