ज़रा हटके

फलों के बजाए पीये हरी सब्जियों के जूस, नहीं बढ़ेगी कैलोरी

14/10/2020

नई दिल्ली (ईएमएस)। स्वस्थ रहने में खानपान का बड़ा महत्व होता है। फिट रहने के लिए लोग फलों के रस का भी सेवन करते हैं पर इसमें शक्कर और कैलोरी की मात्रा हो अधिक हो सकती है और कैलोरी बर्न ना की जाए तो इससे वजन बढ़ने लगता है। ऐसे में अगर जूस पी रहे हैं तो हरी सब्जियों का पिएं, ये पीने में कड़वा जरूर लगेगा लेकिन फलों के जूस की शक्कर और कैलोरी की अपेक्षा ये ज्यादा फायदेमंद होंगे और वजन नहीं बढ़ेगा। जब आप संतरे का जूस पीते हैं तो आपको विटामिन सी मिलता है लेकिन उतना नहीं जितना आपको उसे खाने से मिलेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि जूस से पल्प और फाइबर निकल जाता है जो कि आपके कोलन को स्वस्थ रखने के लिए बेहद कारगर है। साथ ही दिल की बीमारियों के रिस्क, कोलेस्ट्रोल के लेवल को कम करने के साथ ब्लड शुगर लेवल को भी कम करने में मददगार होता है। ऐसे में केवल जूस के भरोसे ना रहें और फाइबर युक्त फल और सब्जियों को जरूर खाएं। इसके अलावा, अगर आप कब्‍ज से परेशान हैं, तो इसके लिए होममेड जूस आजमा सकते हैं।
फल और सब्जियां पोटैशियम का बेहतरीन स्त्रोत होती हैं। यह मिनरल ब्लड प्रेशर के रेगुलेशन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वहीं किडनी शरीर में जरूरत से ज्यादा मौजूद पोटेशियम को बाहर निकालती है। अगर आपको किडनी की कोई समस्या है तो जूस पीने से शरीर में पोटेशियम और ज्यादा बढ़ता जाता है। जिससे हार्ट अटैक जैसे गंभीर परिणाम सामने आ सकते हैं। पोटैशियम वाले फल जैसे केला, अंगूर, एवोकाडो, कह्जुर, आम, गाजर, संतरा, अनार का जूस पीने से बचें। 2019 में आई एक स्टडी के मुताबिक, जो लोग फलों का जूस पीते हैं या मीठे ड्रिंक्स का सेवन करते हैं, उनमें टाइप 2 डायबिटीज की संभावना 16 प्रतिशत अधिक होती है। ऐसे में अगर आपको टाइप 2 डायबिटीज है तो जूस पीने के बजाए फल खाने को ज्यादा तवज्जो दें क्योंकि इसमें मौजूद फाइबर आपके शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं डालता। इसके अलावा आप, पैकेटबंद और फ्लेवर्ड फ्रूट जूस आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। अगर किसी बीमारी की दवाई ले रहे हैं तो ऐसी स्थिति में किसी भी फल या सब्जी का जूस पीने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना ना भूलें। जैसे कि अगर आप अंगूर का जूस पी रहे हैं और कोई दवाई भी खा रहे हैं तो हो सकता है कि आपका कोलेस्ट्रोल स्तर कम होने लगे। लिपिटर दवाई ब्लड प्रेशर कम करती है और अगर अंगूर का जूस पीया तो खून में दवाई का स्तर बढ़ जाएगा जिससे साइड इफेक्ट होने की संभावना बढ़ जाएगी।
विपिन/ईएमएस 14 अक्टूबर 2020