व्यापार

इन्दौर बाजार की साप्ताहिक समीक्षा

11/08/2019


इन्दौर (ईएमएस)। राखी की भरपूर मॉंग के चलते आलौच्य सप्ताह के दौरान किराना जिंसों में नारियल में जोरदार उछाल आया। खाद्य तेलों में आयात दबाव से बाजार सीमित दायरे में रहे। तिलहनों में सोयाबीन सुधार पर रहा। दलहनों में नैफेड की बिकवाली से चना उछाल पर रहा।
किराना :- शनिवार को समाप्त आलौच्य सप्ताह के दौरान स्थानीय किराना बाजार ग्राहकी के मान से बहुत अच्छा रहा। राखी की ग्राहकी सभी किराना जिंसों में बहुत अच्छी नज़र आयी। शक्कर में अगस्त माह का कोटा त्यौहारी मॉंग को देखते हुए अपर्याप्त लगता है, जिसके चलते भावों में 30-40 रू. प्रति क्व‍िंटल की तेजी देखी गयी। इस दौरान शक्कर में बाजार 3380-3410 रू. प्रति क्व‍िंटल को छू गये। खोपरे गोले व बूरे में यद्यपि मॉंग अच्छी रही, किन्तु बाजार सीमित तेजी-मंदी लिए रहे। खोपरा गोला 167-185 रू. प्रति किलो पर बना रहा। तरबूज मगज व बादाम गिरी में मिठाई निर्माताओं की मॉंग के साथ ही बाजार में मजबूती देखी गयी। बादाम मगज में भाव 685-750 रू. प्रति किलो व तरबूज मगज में 172-175 रू. प्रति किलो पर आ गये। नारियलों में औसत आवक 5-6 गाड़ी की रही, किन्तु रक्षाबंधन की मॉंग जोरदार रहने से नारियल एक सप्ताह के भीतर 150 रू. प्रति थैले तक उछल गया और नारियल 120 भरती मालों में 1550-1600 रू. प्रति थैले पर आ गया।
तेल तिलहन :- समीक्षा सप्ताह के दौरान खाद्य तेलों व तिलहनों में व्यापार की मात्रा कम ही रही। चालू माह में करीब 2.50 लाख टन आयातित खाद्य तेलों की उपलब्धता को देखते हुए खाद्य तेलों में तेजी अटकी है। राजस्थान, मध्य प्रदेश व महाराष्ट्र में जोरदार बरसात के बाद खरीफ तिलहनों में अच्छी पैदावार की आशा जागी है। समीक्षा सप्ताह के दौरान सींगदाना तेल इन्दौर लाइन पर 1100-1120 रू. प्रति 10 किलो पर बना रहा। सोया व कपास्या तेल 2-5 रू. प्रति 10 किलो सुधरे, वहीं तिलहनों में सोयाबीन लेवाली से 50-100 रू. प्रति क्व‍िंटल के मुनाफे पर रहा। सरसो व रायडे में बाजार बने रहे।
दाल दलहन :- समीक्षा सप्ताह के दौरान दाल-दलहनों में व्यापार की मात्रा अच्छी रही। चना बाजार नैफेड के नियंत्रण में है। जब भी चने में नैफेड की बिकवाली अटकती है, चना 100-150 रू. क्व‍िंटल उछल जाता है। आलौच्य सप्ताह के दौरान चने में बाजार 4300-4325 रू. प्रति क्व‍िंटल पर मजबूत देखे गये। तुअर में कमजोर आवकों से बाजार पुन: 5400-5500 रू. प्रति क्व‍िंटल पर पहुंच गये। मूंग में लेवाली दम पकड़ने से भावों में 100-200 रू. प्रति क्व‍िंटल की तेजी आयी और मूंग अच्छे मालों में 6000 रू. क्व‍िंटल तक बिक गया। उड़द व मूंग में भी मजबूती देखी गयी।
कासलीवाल/प्रकाश/11 अगस्त 2019