ज़रा हटके

कोरोनाकाल में घरेलू जानवर पालने का प्रचलन बढ़ा, 2020 में पशु खाद्यान्न की बिक्री 20 फीसदी बढ़ी

18/01/2021

नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोनाकाल में लॉकडाउन लागू होने के बाद घरेलू पशुओं को पालने का प्रचलन तेजी से बढ़ा। इससे पिछले साल पालतु पशुओं के खाद्य पदार्थों की बिक्री में 20 फीसदी का इजाफा हुआ है। विनिर्माताओं को यह गति आगे भी बरकरार रहने की उम्मीद है। पेडिग्री, व्हिस्कस, आईएएमएस और टेम्पटेशन जैसे लोकप्रिय ब्रांड का स्वामित्व रखने वाली कंपनी मार्स पेटकेयर तथा स्विट्जरलैंड की एफएमसीजी कंपनी पुरीना की बिक्री में 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई।
बिक्री में यह वृद्धि पारंपरिक चैनलों के माध्यम से ही नहीं आई, बल्कि ई-वाणिज्य मंचों से भी बिक्री तेज हुई। पालतु पशुओं को अपनाने में तेजी आने से भारत में विनिर्माता अपना उत्पाद पोर्टफोलियो बढ़ा रहे हैं। कंपनियां टीवी विज्ञापन और डिजिटल प्रचार भी तेज कर रही हैं। मार्स पेटकेयर इंडिया के महाप्रबंधक गणेश रमानी ने बताया, ‘एक समग्र श्रेणी के रूप में पालतू पशुओं के उत्पादों में और पालतू पशु भोजन की मांग में वृद्धि हुई है। लॉकडाउन के दौरान कई पशुओं को पालतु बनाया गया और घरों में इन्हें अपनाया गया। ऐसे में लोग बड़े बैग, दवा, बिल्ली के भोजन आदि जैसे उत्पादों को घरों में जमा करने लगे।’ उल्लेखनीय है कि महामारी के चलते अब लोग घर पर ही ज्यादा समय बिता रहे हैं। ऐसे में लोग पालतू पशुओं को घर ला रहे हैं।
विपिन/ईएमएस 18 जनवरी 2021