क्षेत्रीय

मजिस्ट्रेट के बंगले से चोरी..

13/03/2019

-ताले की कुंदी काटकर पंखा, इनबेटर ले गए चोर
अशोकनगर (ईएमएस)। कोतवाली थाना क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाली मजिस्ट्रेट कालोनी में बीती रात अज्ञात चोरों ने धाबा बोल दिया। चोरों द्वारा डीजे मजिस्ट्रेट के बंगले के पास खाली पड़े मजिस्टे्रट बंगले को अपना निशाना बनाया और पंखा, इनबेटर और नल की टोटी समेत अन्य सामान भर उड़ा ले गए।
बुधवार की देर रात अज्ञात चोरों ने उक्त घटना को अंजाम दिया। प्राप्त जानकारी अनुसार चोरों ने पहले तो मजिस्ट्रेट बगले के ताले की कुंदी को फनर से काटने का प्रयास किया लेकिन जब कुंदी को काटने में सफल नहीं हुए तो गेट का कुंदा ही उखाड़ लिया और बंलगे के अन्दर प्रवेश कर गए एवं बंगले में लगे दो इनबेटर, दो बड़े बेटरा, 6 पंखा और नलों में लगी टोटी समेत अन्य सामान चुरा ले गए। वहीं घटना की जानकारी बुधवार की सुबह लगी, जब जिला न्यायाधीश के घर पर पानी के नल धीमी गति से आए। जिसका कारण जानने के लिए जब मजिस्ट्रेट द्वारा अपने कर्मचारी को भेजा गया, तो कर्मचारी जांच करते-करते पास वाले खाली बगले के पास पहुंच गया। जहां उसे बगले के ताले टूटे दिखाई, वहीं नलों की टोटी चोरी हो जाने की वजह से पानी वह रहा था। जिसकी जानकारी जब कर्मचारी द्वारा जिला न्यायाधीश को दी गई, तो जिला न्यायाधीश द्वारा तुरंत कोतवाली थाने में फोन कर घटना की जानकारी दी गई। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही सुबह करीबन 11 बजे के आसपास कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और घटना की जांच की गई। जांच में सामने आया कि बंगले में लगे पंखे, दोनो इनबेटर और नलों की टोटियों समेत करीब 30 हजार के आसपास की चोरी का अनुमान लगाया जा रहा था। इसके अलावा अन्य सामान के चोरी जाने की संभावना भी जताई जा रही थी। पुलिस के अनुसार चोरी गए सामान की पूरी जानकारी बंगले के रजिस्टर से सामान का मिलान करने के बाद सामने आ सकेगी कि क्या-क्या सामान चोरी गया है।
2017 से बंद पड़ा था बंगला:
जानकारी अनुसार यह बंगला वर्ष 2017 से बंद पड़ा हुआ था। वर्ष 2017 में इस बंगले में जीसी शर्मा निवास करते थे। उनके जाने के बाद बंगले में कोई नए मजिस्ट्रेट निवास के लिए नहीं आए। वहीं काफी लम्बे समय बंगले के बंद पड़े होने के कारण चोरों ने इसे अपना निशाना बना लिया। पुलिस द्वारा अज्ञात चोरों का सुराग लगाने के लिए फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट को बुलाकर, बंगले के अन्दर से फिंगर प्रिंट के निशानों को उठवाया गया। जिनके आधार पर चोरों की तलाश की जाएगी।
पहले भी हो चुकी है चोरी:
इससे पहले भी मजिस्टे्रट के बंगलों में चोरी हो चुकी हैं। एक बार तो दिन में ही मजिस्टे्रट के बंगले पर चोरी हो गई थी।

इनका कहना:
मजिस्ट्रेट के खाली बंगले में अज्ञात चोर चोरी कर ले गए हैं। यहां से इटवेटर, पंखे, नल की टोंटिया चोरी हुई हैं चोरों की जांच की जा रही है।
श्री मुदगिल, कोतवाली थाना टीआई
प्रवीण/13/03/2019