क्षेत्रीय

जिला प्रशासन गैरकानूनी तरीके से पूर्व विधायक को पहुंचा रहा लाभ

29/06/2020

कांग्रेस का आरोप, राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंप कानूनी कार्यवाही की मांग
अशोकनगर (ईएमएस)। सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान गैर कानूनी तरीके से पूर्व विधायक द्वारा सामूहिक कार्यक्रम आयोजित किये जाने एवं जिला प्रशासन द्वारा सहायता प्रदान किये जाने के आरोप जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा लगाये गये तथा इस संबंध में राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग भी की गई है।
सोमवार को सौंपे गए इस ज्ञापन में कांग्रेस द्वारा आरोप लगाये गए कि पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी द्वारा बीते दिन रविवार को वार्ड नम्बर 19 में सीसी खडंजा का भूमि पूजन किया गया। जिसमें शिलापट्टीका भी लगाई गई, जबकि पूर्व विधायक को कानूनी रूप से यह अधिकारी नहीं है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरिसिंह रघुवंशी ने बताया कि रविवार को सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान पूर्व विधायक एवं भाजपा के पदाधिकारियों द्वारा नगर के गांधी पार्क चौराहे सार्वजनिक रूप से सैकड़ों की तादात में पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी का पुतला दहन किया गया, जो कि आईपीसी की धारा 188 का उल्लंघन है। उन्होने बताया कि रविवार को ही छुट्टी का दिन होने के बाबजूद पूर्व विधायक के कहने पर नगरपालिका सीएमओ केपी सिंह भी अमाही तालाब पहुंचे और मीडिया को सम्बोधित किया। कांग्रेसियों द्वारा आरोप लगाया गया कि पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी के पास बगैर कोई संवेधानिक पद होने के बाबजूद जिला प्रशासन द्वारा सभी शासकीय कार्यक्रमों में सम्मिलित किया जाता है। जिससे यह सिद्ध होता है कि उपचुनाव के मद्देनजर, भाजपा सरकार मनमाने तरीके से अपने प्रतिनिधि और पदाधिकारियों द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से भारत शासन द्वारा जारी लॉकडाउन के गाइडलाइन की धज्जियां उड़ा रहे हैं और सस्ती लोकप्रियता प्राप्त करने के लिये मनमाने तरीके से फर्जी भूमिपूजन एवं अन्य शासकीय योजना आदि से जनता की गुमराह कर रही है। चूंकि सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान जिला प्रशासन तक किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति भी नही दे सकता और ऐसे कार्यक्रमों में शासकीय अधिकारियों की स्वयं उपस्तिथि प्रशासन को स्पष्ट संदेह के घेरे में खड़ा करती है। कांग्रेस द्वारा ज्ञापन सौंपते हुए कानूनी कार्यवाही की मांग की गई। इस अवसर पर कांग्रेस के गौरव त्रिपाठी, सोनू सुमन, सुरेन्द्र सिंह, शादाब खान, नूर अली, चन्द्रमोहन सेन आदि उपस्थित रहे।
---/29 जून 2020