ट्रेंडिंग

सरदार पटेल पहले प्रधानमंत्री बने होते तो भारत समस्यामुक्त होता : अमित शाह

12/02/2019

अहमदाबाद (ईएमएस)| भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज गोधरा में पंचमहल, दाहोद और छोटाउदेपुर लोकसभा सीटों के शक्ति केन्द्र सम्मेलन में कांग्रेस पर कड़े प्रहार किए| शाह ने कहा कि आजादी के बाद गुजरात और गुजरातियों के साथ कांग्रेस ने लगातार अन्याय किया है| कांग्रेस के एक-दो समिति के सदस्यों को छोड़कर सभी सदस्य सरदार वल्लभभाई पटेल को प्रधानमंत्री बनाने को उत्सुक थे, इसके बावजूद जवाहरलाल नेहरू को प्रधानमंत्री बनाया गया| मैं आज दावे के साथ कहता हूं कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री यदि सरदार पटेल को बनाया गया होता तो कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक का भारत पूरी तरह समस्यामुक्त होता| जवाहरलाल नेहरू की दूसरी पीढ़ी इंदिराजी गांधी ने भी गुजरात के प्रति द्वेषभाव रख मोरारजी देसाई को प्रधानमंत्री नहीं बनने दिया और गुजरात की जीवनदायिनी नर्मदा योजना का काम में वर्षों तक बाधा डालकर गुजरात के साथ अन्याय किया| अमित शाह ने कहा कि भाजपा अन्य राजनीतिक दलों से अलग प्रकार का प्रकार राजनीतिक दल है| भाजपा को छोड़ अन्य राजनीतिक दल या नेता, परिवार, जातिवाद या प्रदेशवाद के आधार पर काम करते हैं| जबकि भाजपा कोई एक परिवार, जाति के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के विकास के लिए काम करनेवाली पार्टी है| भाजपा अपने लाखों-करोड़ों कार्यकर्ताओं के परिश्रम से चुनाव जीतती है| उन्होंने कहा कि मेरे जैसा बूथ पर काम करनेवाला एक अदना सा कार्यकर्ता दुनिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल का अध्यक्ष बनता है और यह केवल भाजपा में ही संभव है| कोई जाति या परिवार के पृष्ठभूमि के बगैर एक गरीब चाय बेचनेवाले का पुत्र अपनी क्षमता और शुद्ध निष्ठा के आधार पर देश का प्रधानमंत्री बनता है और यह भी भाजपा में ही संभव है| भाजपा का छोटे से छोटा कार्यकर्ता अपनी क्षमता के आधार पर मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रीय अध्यक्ष या प्रधानमंत्री बन सकता है| भाजपा को संपूर्ण लोकतांत्रिक पार्टी करार देते हुए अमित शाह ने कहा कि ममता, मायावती, राहुल, सोनिया, प्रियंका, मुलायम, अखिला और स्टालीन इत्यादि की पार्टी केवल परिवारवाद, जातिवाद और प्रदेशवाद आधारित पार्टियां हैं| अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी को कांग्रेस ने 55 साल में देश के लिए क्या किया, इसका जनता को जवाब देना चाहिए| गरीब के घर में गैस, बिजली, शौचालय पहुंचाने में कांग्रेस सरकार नाकाम रही है| सोनिया गांधी और मनमोहनसिंह की सरकार के दौरान पाकिस्तान से आलिया, मालिया और जमालिया जैसा कोई भी देश के भीतर घुस आता था, जिसे कोई पूछनेवाला नहीं था| जबकि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सेना के वीर जवान पाकिस्तान के भीतर घुसकर सफल सर्जिकल स्ट्राइक कर दुश्मन को ईंट का जवाब पत्थर से दे रहे हैं|
सतीश/12 फरवरी