ज़रा हटके

बीमारी नहीं, प्यार की निशानी हो सकता है मोटापा

09/02/2020

नई दिल्ली (ईएमएस)। मोटापे को अक्सर लोग बीमारी के तौर पर देखते हैं, मगर एक अध्ययन में वजन बढ़ने को प्यार की निशानी के तौर पर बताया गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि दो लोग जब एक दूसरे को पसंद करने लगते हैं, तो उन्हें किसी को प्रभावित करने की चिंता नहीं रह जाती है। ऐसे में वे अपने खानपान पर ध्यान देना बंद कर देते हैं। यह अध्ययन सेंट्रल क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी में किया गया है। इसमें देखा गया कि प्रेमी जोड़ों का वजन उन लोगों के मुकाबले अधिक था, जो किसी रिश्ते में नहीं थे। रिश्ते में ठहराव आने पर अपने व्यक्तित्व पर ध्यान नहीं देते हैं। उन्हें लगता है कि अब उन्हें किसी को प्रभावित करने के लिए मेहनत करने की कोई जरूरत नहीं है। विशेषज्ञों ने यह निष्कर्ष 15 हजार लोगों के आंकड़ों पर 10 साल तक अध्ययन के बाद निकाला है।
न्यूसाइंटिस्ट में प्रमुख शोधकर्ता स्टीफेनी शोपे ने कहा कि जब जोड़ों को यह एहसास हो जाता है कि अब उन्हें किसी को प्रभावित करने की जरूरत नहीं है, तो वे खानपान को लेकर लापरवाह हो जाते हैं। इसके अलावा पति-पत्नी के बीच जब बच्चे आ जाते हैं, तो भी उनका वजन बढ़ने लगता है, क्योंकि वे उनका छोड़ा हुआ खाना भी अक्सर खा लेते हैं। इससे उनकी डाइट आवश्यकता से अधिक हो जाती है। यह अध्ययन प्लस वन मेडिकल पत्रिका में प्रकाशित हो चुका है। हालांकि इसमें कहा गया है कि वजन बढ़ने का मतलब बीमार जीवनशैली से कभी नहीं लगाया जाना चाहिए।
राजेन्द्र/ईएमएस 09 फरवरी 2020