अंतरराष्ट्रीय

एच-1बी वीजा देने से इनकार, अमेरिकी सरकार पर मुकदमा

18/05/2019

वाशिंगटन (ईएमएस)। अमेरिका की एक आईटी कंपनी ने एक उच्च शिक्षित भारतीय पेशेवर को एच-1बी वीजा देने से इनकार करने पर अमेरिकी सरकार के खिलाफ मुकदमा दायर किया है। कैलिफोर्निया के सिलिकन वैली स्थित कंपनी ने अमेरिकी सरकार के इस फैसले को मनमाना और अधिकारों का दुरुपयोग बताया। जेट्रा सॉल्यूशंस नाम की कंपनी ने आरोप लगाया है कि अमेरिकी नागरिकता एवं आव्रजन सेवा (यूएससीआईएस) ने प्रहर्ष चंद्र साईं वेंकट अनीसेट्टी को अनुचित तरीके से एच-1बी वीजा देने से मना किया। वेंकट को कंपनी में बिजनेस सिस्टम एनालिस्ट के रूप में नियुक्त किया गया था। दरअसल, सरकार ने वेंकट की तरफ से कंपनी के एच-1बी वीजा आवेदन को इस आधार पर खारिज किया कि उन्हें जिस नौकरी की पेशकश की गई थी वह इस वीजा के लिए पात्र नहीं है। क्योंकि यह वीजा विशेष योग्यता के कार्यों के लिए मिलता है। कंपनी ने जिला अदालत से यूएससीआईएस के आदेश को निरस्त करने का आग्रह किया और कहा कि वीजा आवेदन को खारिज करने के पर्याप्त आधार नहीं दिए गए हैं। इसलिए यह एक मनमाना और बिना सोचा समझा निर्णय है। यह अधिकारों का दुरुपयोग है।
एसएस/ईएमएस 18 मई 2019