अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका ने ताइवान को दी पैट्रियॉट मिसाइल

11/07/2020


- चीन बोला, आग से मत खेलो
पेइचिंग (ईएमएस)। ताइवान को अमेरिका के पैट्रियॉट एडवांस कैपिबिलिटी-3 मिसाइलों की बिक्री से चीन को इतनी मिर्ची लगी है कि उसकी सरकारी मीडिया बिलबिलाने लगी है। 620 मिलियन डॉलर की अनुमानित लागत वाले इस रक्षा सौदे को अमेरिका की मंजूरी मिलने के बाद सीधे तौर पर ताइवान और यूएस को आग से न खेलने की चेतावनी दे डाली। इन दिनों साउथ चाइना सी में अमेरिका के दो एयरक्राफ्ट कैरियरों के युद्धाभ्यास से भी चीन चिढ़ा हुआ है। चीन ने अपने सैन्य शक्ति में इतना इजाफा कर लिया है कि ताइवान अमेरिका से कितना भी सैन्य उपकरण और हथियार खरीद ले इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। चीनी मीडिया ने दावा किया कि ताइवान का रक्षा बजट केवल 11 बिलियन डॉलर है। जो चीनी सेना के सामने उल्लेख करने के लायक भी नहीं है।
इतना ही नहीं, चीन सरकार के मुखपत्र ने एक कदम आगे बढ़ते हुए कहा कि एक बार युद्ध छिड़ जाने के बाद चीनी सेना कुछ घंटों के भीतर ताइवान की समग्र सैन्य क्षमताओं को नष्ट कर उसके द्वीपों पर कब्जा करने में सक्षम है। ताइवान को चीन अपना हिस्सा बताता रहा है और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता बार-बार ताइवान के ऊपर सैन्य कार्यवाई की धमकी देते रहते हैं। अमेरिका से हथियार खरीदने पर ताइवान इन रक्षा सौदों के जरिए अमेरिका को सुरक्षा शुल्क चुका रहा है। ताइवान की अपने लोगों की रक्षा करने में सक्षम नहीं है। ताइवान की रक्षा को पारंपरिक तरीके से नहीं आंका जा सकता है। यह केवल रणनीतिक संतुलन का परिणाम है। चीन की शक्ति के सामने ताइवान कहीं नहीं टिकता।
सतीश मोरे/11जुलाई